समस्या / फरड़ोद में संचालित राजकीय उपस्वास्थ्य केंद्र की 37 साल से नहीं हुई क्रमोन्नति

Government sub-health center in Farad has not been upgraded for 37 years
X
Government sub-health center in Farad has not been upgraded for 37 years

  • उपस्वास्थ्य केंद्र में कंपाउडर का पद भी नहीं है स्वीकृत, नहीं हो रही है कोई सुनवाई

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

रोल. फरड़ोद में संचालित राजकीय उप स्वास्थ्य केंद्र पिछले 37 सालों से क्रमोन्नति का इन्तजार कर रहा है। फरड़ोद ग्रामीणों को चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाने के उद्देश्य को लेकर गांव के भामाशाह द्वारा निर्मित गणेशीदेवी सुवादेवी भूरट राजकीय उप स्वास्थ्य केंद्र 21 जून 1983 में शुरू किया गया, मगर 37 साल बाद भी यह अस्पताल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (पीएचसी) के रूप में क्रमोन्नत नहीं हो पाया है। अस्पताल के क्रमोन्नत नहीं होने से ग्रामीणों को चिकित्सा सुविधा का लाभ नहीं मिल रहा है। ग्रामीणों ने उप स्वास्थ केंद्र को पीएचसी में क्रमोन्नत करवाने को लेकर पिछले कई सालों से मांग कर रहे है, मगर आज तक कोई सुनवाई नहीं हो पाई है जिससे लोगों में रोष व्याप्त है। जानकारी अनुसार उप स्वास्थ्य केंद्र में कम्पाउंडर तक का पद भी स्वीकृत नहीं है, ऐसे में यह केंद्र दो एएनएम के भरोसे ही संचालित हो रहा है। जानकारी अनुसार यहां पहले कम्पाउंडर हनुमानराम भांभू को व्यवस्थार्थ लगाया गया था, मगर पद स्वीकृत नहीं होने के कारण बाद में उन्हें भी हटाकर अन्यत्र लगा दिया गया। ग्रामीणों ने शीघ्र ही अस्पताल को क्रमोन्नत करने की मांग की है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना