पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Nagaur
  • GSS Was Cordoned Off, Demanding Uninterrupted Power Supply And Removal Of JEN And Linemen; Villagers Said Discom Officers And Employees Do Not Do Any Work Without Bribe

बिजली कटौती से परेशान ग्रामीणों का फूटा गुस्सा:जीएसएस का घेराव कर लगाया ताला; लाइनमैन को हटाने और बिजली सप्लाई ठीक करने पर माने

नागौर17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बग्गड़। जीएसएस के घेराव व तालाबंदी के बाद समझाइश के लिए मौके पर पहुंचे डिस्कॉम AEN। - Dainik Bhaskar
बग्गड़। जीएसएस के घेराव व तालाबंदी के बाद समझाइश के लिए मौके पर पहुंचे डिस्कॉम AEN।

भीषण गर्मी और बारिश के मौसम से पहले अघोषित बिजली और बार-बार की बिजली कटौती से बेहाल जिले के रियांबड़ी उपखण्ड क्षेत्र के बग्गड़ गांव में रविवार को बिजली विभाग के खिलाफ ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा। आक्रोशित 5 गांवों के लोगों ने यहां बग्गड़ जीएसएस का घेराव करते हुए प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने निर्बाध बिजली सप्लाई व बिजली विभाग के JEN व लाइनमेन को को हटाने की मांग की।

जानकारी अनुसार लगातार हो रही बिजली कटौती से परेशान होकर जिले के बग्गड़, नथावाड़ा, नथावडी, धामनिया व बेडास सहित गांवों के ग्रामीणों ने रविवार सुबह जमा होकर बग्गड़ जीएसएस पर प्रदर्शन शुरू करते हुए यहां तालाबंदी कर दी।

ग्रामीण पिछले कई दिनों से हो रही अघोषित बिजली कटौती से परेशान थे, जिस कारण लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। सुबह से गांवों में बिजली बंद रहने और शाम तक बिजली के बहाल नहीं होने से सैकड़ों की संख्या में ग्रामीणों ने यहां बिजली विभाग के खिलाफ रोष व्यक्त किया। ग्रामीणों ने मौके पर डिस्कॉम के अधिकारियों को बुलाने ओर व्यवस्था में सुधार करने की मांग भी की।

आखिरकार मेड़ता विधायक इंद्रा देवी बावरी के मौके पर पहुंचने के बाद हुई समझाइश में लाइनमेन को तुरंत हटाने और बिजली सप्लाई को भी तुरंत ही सुचारू करने की बात पर ग्रामीणों ने घेराव खत्म कर दिया और जीएसएस की तालाबंदी हटा दी।

ग्रामीणों की शिकायत थी कि लगातार हो रही कटौती और फिर हाई वोल्टेज से कई घरों में बिजली उपकरण भी खराब हो गए तो कई के उपकरण भी जल गए। साथ ही घरों में पानी और घरेलू कार्यों की समस्या भी हो रही है। ग्रामीणों की यह भी शिकायत थी कि बिजली विभाग के लापरवाह JEN अनवर अली व लाइनमैन को यहां से हटाया जाए। इनका आरोप है कि बिजली विभाग के अधिकारी और कर्मचारी बिना रिश्वत के कोई काम नहीं करते है।

मेड़ता विधायक बावरी पहुंची मौके पर, लाइनमेन को हटाने और सप्लाई सुचारु करने पर माने ग्रामीण
डिस्कॉम के रियांबड़ी AEN ग्रामीणों से समझाइश के लिए मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को निर्बाध बिजली सप्लाई का आश्वासन देते हुए प्रदरशन समाप्त करते हुए बग्गड़ जीएसएस का ताला खोलने की बात कही। लेकिन ग्रामीण नहीं माने, आखिरकार मेड़ता विधायक इंद्रा देवी बावरी के मौके पर पहुंचने के बाद हुई समझाइश में लाइनमेन को तुरंत हटाने और बिजली सप्लाई को भी तुरंत ही सुचारू करने की बात पर ग्रामीणों ने घेराव खत्म कर दिया और जीएसएस की तालाबंदी हटा दी।

खबरें और भी हैं...