पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

खुलासा:मौज मस्ती के आदी हाे गए थे इसलिए लूटा था 15 लाख रुपयाें से भरा एटीएम, कर्ज में भी डूबे

नागाैरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • यहां तीन महीने से चल रही थी दाे ज्वैलर काे लूटने की तैयारी
  • ऊंटवालिया हाल दीप काॅलाेनी निवासी दीपक साेनी डकैती की याेजना का मास्टरमाइंड

काेतवाली थाना इलाके के एक ज्वैलर्स की दुकान में डकैती डालने की याेजना के आराेप में गिरफ्तार पांच आराेपियाें में से दाे जने जाेधपुर के भावी में यूकाे बैंक एटीएम काे लूटने की वारदात में भी शामिल थे। इस वारदात में कुल पांच आराेपी थे, जिनमें से दाे जने तिलवासनी निवासी उम्मेदाराम पुत्र गणपतराम जाट तथा जसवंतगढ़ थाना इलाके जैसलान निवासी धर्मेन्द्र सिंह शामिल थे।

जबकि इनके तीन और साथी हैं, जिनकाे जाेधपुर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। सदर थाना प्रभारी अंजु कुमारी चाैधरी ने बताया कि पुलिस ने जब उम्मेदाराम एवं धर्मेन्द्र तथा इनके तीन और साथी सुभाष जांगिड, पवन बेनीवाल तथा दिनेश काे गिरफ्तार कर पूछताछ की ताे इन आराेपियाें ने जाेधपुर लूट का जिक्र तक नहीं किया। जबकि आराेपियाें से पुलिस ने पूरी सख्ती के साथ पूछताछ की थी, लेकिन जब जाेधपुर पुलिस ने धर्मेन्द्र व उम्मेदाराम के अन्य साथियाें काे गिरफ्तार कर पूछताछ की ताे वे फूट पड़े और उन्हाेंने इन दाेनाें का नाम भी उगल दिया। आराेपियाें ने और कहां-कहां वारदातें की तथा वारदात में प्रयुक्त हथियार कहां से लाए इसके बारे में अभी पूछताछ जारी है।

शहर में डकैती के लिए दाे लाेकेशन की करवाई रैकी

ऊंटवालिया हाल दीप काॅलाेनी निवासी दीपक साेनी डकैती की याेजना का मास्टरमाइंड है। उसने कई दिनाें तक दाे लाेकेशनाें की रैकी करवाई थी। उम्मेदाराम तथा धर्मेन्द्र ने अपने साथियाें के 15 लाख रुपयाें से भरा हुआ एटीएम इसलिए लूटा था कि ये मौज मस्ती व हाई सोसायटी लाइफ जीने के आदि हाे गए थे। इसके चलते ये कर्जे में डूब गए थे। आराेपी एटीएम काटकर रुपए निकाल ले गए थे और खाली एटीएम काे भाेपालगढ़ के एक कुएं में फेंकने के बाद फरार हाे गए थे।

खबरें और भी हैं...