पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Nagaur
  • Helping The Needy Doing In The Name Of Raje; Former BJP Ministers, MLAs And Many Big Leaders Are Running "Vasundhara Jan Rasoi" Across The State.

'वसुंधरा की जन रसाेई' में भाजपा गायब:पार्टी चला रही सेवा ही संगठन कार्यक्रम, इससे अलग पूर्व CM के नाम से जरूरतमंदों को भोजन करा रहे पूर्व मंत्री, विधायक और कई बड़े नेता

नागौर2 महीने पहलेलेखक: मनीष व्यास
  • कॉपी लिंक
जयपुर में रसोई का संचालन करते वसुंधरा समर्थक पूर्व मंत्री और विधायक। - Dainik Bhaskar
जयपुर में रसोई का संचालन करते वसुंधरा समर्थक पूर्व मंत्री और विधायक।

प्रदेश भाजपा में लंबे समय से चल रही सियासी गुटबाजी की चर्चाओं के बीच एक और नया मामला सामने आया है। पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे समर्थक इन दिनों कोरोना काल में पूरे प्रदेश में कई जगहों पर 'वसुंधरा जन रसोई’ के नाम से जरूरतमंदों को भोजन उपलब्ध करा रहे हैं। यही जन रसोई राजस्थान की राजनीति में चर्चा का विषय बनी हुई है। दो बार भाजपा से मुख्यमंत्री बनीं CM की इस रसोई से भाजपा ही गायब है। समर्थक भाजपा से अलग उन्हें प्रसारित कर रहे हैं। इस संदेश के मायने लोग अपने-अपने तरीके से निकाल रहे हैं।

भाजपा चला रही 'सेवा ही संगठन' नाम से कार्यक्रम
प्रदेशभर में रसोई चला रहे पूर्व मुख्यमंत्री के समर्थक इसे पूरी तरह से जनसेवा का कार्यक्रम बता रहे हैं। लेकिन, अंदरखाने की बात यह है कि भाजपा के कई मौजूदा सांसदों, पूर्व मंत्रियों, विधायक और कई बड़े भाजपा नेताओं की इसमें भागीदारी करके पूर्व CM की सियासी ताकत का अहसास कराया जा रहा है। इधर, प्रदेश भाजपा की ओर से भी 'सेवा ही संगठन’ के नाम से अलग कार्यक्रम चल रहा है। इसमें रक्तदान अभियान, काढ़ा वितरण, मास्क व सैनिटाइजर वितरण से लेकर कई अन्य सेवाएं शामिल हैं।

अब वसुंधरा समर्थक सांसदों, पूर्व मंत्रियों, विधायक और कई बड़े भाजपा नेताओं की शिरकत से पार्टी संगठन से अलग चलाई जा रही 'वसुंधरा जन रसोई’ ने अनुशासन के मामले में ‘पार्टी विथ डिफ़रेंस’ कही जाने वाली भाजपा पर कई सवाल खड़े कर दिए हैं।

व्यंका इंडिया लिमिटेड कंपनी के माध्यम से चलाई जा रही है 'वसुंधरा जन रसोई’
'वसुंधरा जन रसोई’ की शुरुआत 21 मई को पूर्व कैबिनेट मंत्री और पूर्व CM राजे के बेहद करीबी माने जाने वाले यूनुस खान की मौजूदगी में जयपुर के हसनपुरा बस्ती में करीब 300 परिवारों को फूड पैकेट्स बांटने से हुई थी। इसके लिए व्यंका इंडिया लिमिटेड कंपनी के माध्यम से दो रसोई वैन भी तैयार करवाई गई है। इन दोनों वाहनों को पूर्व कैबिनेट मंत्री यूनुस खान ने ही यहां से हरी झंडी दिखाकर प्रदेश भर में रवाना किया था।

कोटा में 'वसुंधरा जन रसोई’ का संचालन करते भाजपा नेता।
कोटा में 'वसुंधरा जन रसोई’ का संचालन करते भाजपा नेता।

पूर्व मंत्री खान ने अपनी मॉनिटरिंग से मना किया
इस बारे में जब पूर्व कैबिनेट मंत्री खान से बात कि गई तो उन्होंने कहा कि हां, ये कार्यक्रम चल रहा है, लेकिन इस पर उनकी कोई मॉनिटरिंग नहीं है। प्रदेश भर में पूर्व CM राजे के समर्थक और चाहने वाले उनकी प्रेरणा से इस विपदा काल में जरूरतमंदों को 'वसुंधरा जन रसोई’ के माध्यम से फ़ूड पैकेट वितरण किये जा रहे हैं। इनका कहना है कि लोग अपने आप ही इसको भामाशाह व दानदाता बन चला रहे हैं।

जयपुर में 'वसुंधरा जन रसोई’ के संचालन में मदद करते पूर्व मंत्री व पूर्व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अरुण चतुर्वेदी और अन्य नेता।
जयपुर में 'वसुंधरा जन रसोई’ के संचालन में मदद करते पूर्व मंत्री व पूर्व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अरुण चतुर्वेदी और अन्य नेता।

सांसद, पूर्व मंत्री, विधायक और बड़े भाजपा नेता कर रहे हैं शिरकत
'वसुंधरा जन रसोई’ के माध्यम से आयोजित हो रहे कार्यक्रमों में अब तक पूर्व कैबिनेट मंत्री और विधायक कालीचरण सर्राफ, पूर्व कैबिनेट मंत्री व पूर्व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अरुण चतुर्वेदी, पूर्व कैबिनेट मंत्री यूनुस खान, सांसद रामचरण बोहरा, सांसद मनोज राजौरिया, पूर्व संसदीय सचिव व खानपुर विधायक नरेंद्र नागर सहित कई मौजूदा जिला स्तरीय व मंडल स्तरीय भाजपा पदाधिकारी शिरकत कर चुके हैं।

उपचुनाव में सामने आ चुकी गुटबाजी
राजस्थान में पिछले दिनों तीन सीट पर हुए उपचुनाव में गुटबाजी सामने आ चुकी हैं। तीनों सीटों में से एक पर भी पूर्व सीएम प्रचार करने नहीं गई थी, इसको लेकर कई तरह के कयास लगाए गए थे। इसके अलावा चुनाव प्रचार के दौरान बैनर से वसुंधरा की तस्वीर गायब होना भी चर्चा में रहा था। हालांकि पूर्व सीएम इस पर कभी नहीं बोली, लेकिन राज्य की राजनीति में उनके समर्थक राज्य की अब भी सबसे पावरफुल नेता दिखाने के लिए पूरे प्रयास में जुटे हैं।

इस मामले को लेकर जब भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पुनिया से बात की गई तो उन्होंने 'वसुंधरा जन रसोई’ के बारे में जानकारी होने से इनकार किया है और मामले को लेकर प्रदेश महामंत्री मदन दिलावर से पार्टी का पक्ष लेने की बात कही।

प्रदेश महामंत्री मदन दिलावर
प्रदेश महामंत्री मदन दिलावर

प्रदेश महामंत्री मदन दिलावर से हुए सवाल-जवाब

सवाल - प्रदेश में कई जगहों पर 'वसुंधरा जन रसोई’ के नाम से BJP के कुछ सांसद, विधायक और नेता जरूरतमंदों को निशुल्क भोजन पैकेट बांट रहे हैं, ये क्या है ?
जवाब - केंद्र में BJP सरकार के दूसरे कार्यकाल के सफलतम 2 वर्षों के उपलक्ष्य में नेता व कार्यकर्ता पार्टी के 'सेवा ही संगठन' कार्यक्रम के माध्यम से प्रदेश भर में सेवा कार्य कर रहे हैं और ये कोई भी कर सकता है।

सवाल - पार्टी द्वारा सेवा ही संगठन नाम से पहले से कार्यक्रम चलाया जा रहा है तो क्या पार्टी के बड़े नेताओं द्वारा पार्टी के बैनर को छोड़ इस तरह के कार्यक्रम आयोजित करना सही है ?
जवाब - कार्यक्रम तो पार्टी के बैनर तले ही होना चाहिए और पार्टी के नेता और कार्यकर्ता पार्टी के बैनर तले ही 'सेवा हीं संगठन' अभियान के तहत सेवा कार्य कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...