ससुर ने दामाद को मारे जूते, चप्पलों की माला पहनाई:पत्नी को बार-बार टोकता, मां के साथ उठा ले गए

नागौर3 महीने पहले
दामाद को चप्पलों की माला पहनाई। - Dainik Bhaskar
दामाद को चप्पलों की माला पहनाई।

नागौर में एक व्यक्ति को पत्नी से टोका टोकी भारी पड़ गई। ससुराल वाले उसे उसकी मां के साथ धोखे से एक खेत में ले गए। उन्हें बन्दूक के बट और लात-घूंसों से मारा गया। ससुर ने दामाद के सर में जूते मारे और दामाद को जूतों की माला भी पहना दी। इस दौरान वीडियो भी बनाए गए, जिन्हें अब सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया गया है। घटना डेगाना थाना क्षेत्र के सिडियास गांव में 10 दिन पहले हुई। अब मंगलवार देर शाम पीड़ित दामाद ने अपने पिता के साथ पहुंच डेगाना थाने में मामला दर्ज करवाया है।

मनोहर पुत्र जेठूराम निवासी सिडियास ने बताया कि उसके बेटे कैलाश कि पत्नी ग्यारसी देवी अक्सर घर पे किसी को बताये बिना घर से भाग जाती थी। 15 मई को भी वो घर से भाग गई थी। इस पर ग्यारसी को टोका और उसके पिता रामकरण को शिकायत की थी। रामकरण ने कहा कि ग्यारसी को उसके पति कैलाश और सास राजू देवी के साथ डेगाना कोर्ट भेज दो। वहां लिखा-पढ़ी कर रोज-रोज की समस्या खत्म कर लेंगे। इस पर रामकरण के कहे अनुसार तीनों को डेगाना कोर्ट भेज दिया। वहां कैलाश ने ग्यारसी को रामकरण के सुपुर्द कर लिखा-पढ़ी करवाने को कहा। इस पर रामकरण और उसके साथ 3 गाड़ी से आए लोगों ने कैलाश और उसकी मां राजू देवी को गाड़ी में डाल लिया और उन्हें खाटू क्षेत्र के एक खेत में लेकर गए।

वहां रामकरण ने सुरेश, कैलाश, रतनाराम, किशनाराम, रिछपाल और छोटू के साथ मिलकर कैलाश और उसकी मां राजू देवी से मारपीट शुरू कर दी। यहां कैलाश के सर पर 100 जूते मारे और उसे चप्पलों की माला पहनाई गई। इस दौरान सभी ने मोबाइल में वीडियो भी बनाए। कैलाश की बहन विमला और जीजा कानाराम ने वहां पहुंचकर सभी से हाथा-जोड़ी कर जैसे-तैसे कैलाश और राजू देवी को उनके चंगुल से छुड़ाया।