पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नागौर में किसान आंदोलन:NH 89 और 458 पर चक्काजाम करके किसानों ने तीनों कृषि कानून वापस लेने की मांग की

नागौर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मेड़ता-अजमेर राष्ट्रीय राजमार्ग पर बैठे किसान। - Dainik Bhaskar
मेड़ता-अजमेर राष्ट्रीय राजमार्ग पर बैठे किसान।

केंद्र सरकार की ओर से लाए गए कृषि कानूनों के विरोध में शनिवार को मेड़ता-अजमेर राष्ट्रीय राजमार्ग 89 और 458 पर किसानों ने प्रदर्शन धरना देकर प्रदर्शन किया। दोपहर 12:00 बजे से 3:00 बजे तक चक्काजाम रखा।इससे वाहनों की लंबी कतारें लगी रही। इस दौरान किसान नेताओं ने संबोधित करते हुए तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की पुरजोर मांग की। क्षेत्र के किसानों की ओर से किया गया प्रदर्शन शांतिपूर्वक रहा।

इस दौरान मेड़ता पुलिस थाना अधिकारी नरपत सिंह पुलिस और आरएसी के जाब्ते के साथ तैनात रहे। भारतीय किसान यूनियन जिलाध्यक्ष सुशील रियाड सोगावास ने बताया की मेड़ता अजमेर 89 नेशनल हाईवे और 458 बाईपास नेशनल हाईवे पर चक्काजाम किया गया। मेड़ता क्षेत्र के किसान, कृषि उपज मंडी के हमाल एसोसिएशन, मुनीम एसोसिएशन, व्यापार संघ कृषि उपज मंडी ने अपना कारोबार और प्रतिष्ठान बंद रखें। इस मौके पर राष्ट्रपति के नाम भारतीय किसान यूनियन की ओर से एक ज्ञापन भी दिया गया।

कृषि उपज मंडी में नहीं लगी नीलामी बोली
देशवासी दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन वह किसान यूनियनों की ओर से चक्काजाम के चलते मेड़ता कृषि उपज मंडी मैं शनिवार को खुली नीलामी बोली नहीं लगी। मेड़ता व्यापारी उद्योग संघ अध्यक्ष हस्तीमल दोषी ने बताया कि आज कृषि उपज मंडी में जिंसों की खुली बोली नहीं लगेगी।

ट्रैक्टर, डीजे, जेसीबी मशीन लगाकर बंद किए रास्ते।
ट्रैक्टर, डीजे, जेसीबी मशीन लगाकर बंद किए रास्ते।

ट्रैक्टर और जेसीबी लगाकर बंद किया हाईवे

डीडवाना रोड़, लाडनू रोड़, नागौर रोड़, मेड़ता रोड़ को चारों तरफ से किसानों ने ट्रैक्टर डीजे जेसीबी मशीन लगाकर बंद किया और बीच हाईवे चौराहा पर मंच बनाया गया। हालांकि, पुलिस प्रशासन ने इससे पहले ही सभी रास्तों को डायवर्ट कर दिया जिससे वाहनों को किसी तरह की परेशानी नहीं हुई। किसान अपने निश्चित समय में धरना स्थल पर सभा का संचालन कर लौट गए।

डीडवाना में विधायक ने किया किसानों को संबोधित
डीडवाना विधायक चेतन सिंह डूडी ने धरना स्थल पर संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र सरकार किसानों पर तरह तरह के बिल लाकर अत्याचार कर रही हैं। कानून बनाकर खेत और खलिहान हड़पना चाहती है। हम किसान के बेटे हैं। किसान किस प्रकार मौसम की मार को झेल कर फसल पैदा करता है और देश और विदेश के लोगों का पेट पालता है। किसानों पर चारों तरफ से जुल्म किया जा रहा है। हम इस अत्याचार को बर्दाश्त नहीं कर सकते। किसान इन बिलों का पुरजोर तरीके से जब तक विरोध करेगा तब तक की केंद्र की गूंगी बहरी भाजपा सरकार इनको वापस नहीं ले लेती।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

और पढ़ें