गांव के लोगों को मिट्टी का महत्व व उपयोगिता बताई:अनेक प्रतियोगिताओं का आयोजन, शोभादेवी की रंगोली प्रथम तो कंचन की रंगोली दूसरे स्थान पर

मूंडवा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नायकों की ढाणी गांव खारड़ा में गुरुवार को विश्व मृदा दिवस जागरूकता सप्ताह कार्यक्रम के अंतर्गत आओ गांव की मिट्टी को जाने कार्यक्रम के तहत महिला किसानों के साथ मिट्टी, गोबर व प्राकृतिक कलर द्वारा रंगोली बनाई गई। साथ ही उन्हें मृदा के महत्व व उसके प्रदूषित होने के कारण बताए गए। महिलाओं द्वारा खेती में सुधार करने में अपना योगदान के बारे में अवगत कराया। जिसमें गोबर की खाद की गुणवत्ता बनाना व खरपतवार के लिए निराई गुड़ाई करने के बारे में बताया क्योंकि खरपतवार की दवाई सबसे ज्यादा मनुष्य और जानवर के लिए हानिकारक होती हैं। आयोजित रंगोली प्रत्योगीता में 20 महिलाओं ने भाग लिया उनमें से चयनित 15 महिलाओं को अंबुजा सीमेंट फाउंडेशन द्वारा प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक नंद किशोर द्वारा पारितोषिक भी दिया गया हैं। कार्यक्रम में प्रसार कार्यकर्ता सुरेंद्र बेनीवाल ने सहयोग किया व बकरी पालन समूह के सदस्य की रंगोली सुंदर रही शोभा देवी की रंगोली प्रथम रही व कंचन की रंगोली दितीय रही।

खबरें और भी हैं...