पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कार्रवाई:मोगिया गैंग: कई चोरियों का मानस था, पुलिस ने पकड़ा

नागौर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अटरू थाने से मांगा पुलिस ने आपराधिक रिकॉर्ड

दुकान से कपड़े चोरी के बाद खींवसर थाना पुलिस के हत्थे चढ़ी मोगिया गैंग कि महिलाएं दीपावली तक नागौर एवं इसके आस-पास के इलाकों में चोरी की वारदातें करने का मानस बनाकर आई थीं। इस गिराेह की महिलाओं का यहां आने का उन्होंने यह कारण भी बताया है कि इस इलाके में उनको कोई जानता नहीं है। इसके अलावा इस तरह की वारदातें भी यहां नहीं हुई है। इसके चलते महिलाएं इस क्षेत्र में बड़े स्तर पर चोरी की वारदातें करने वाली थी।

थाना प्रभारी बृजेन्द्र सिंह ने बताया बारां के अटरू थाना इलाके के छतरपुरा फार्म निवासी मूर्ति पत्नी बंटी मोगिया बागरी, बारा के अटरू थाना इलाके के काचरी निवासी बुली पत्नी जोधाराम मोगीया बागरी, कहोना पत्नी जगदीश मोगिया बागरी, अटरू थाना इलाके के कुजड़ निवासी गुलमोहर पत्नी बनवारी मोगीया बागरी, कोतवाली के कलमंडा निवासी मेहताब बाई पत्नी केदार लाल मोगिया बावरी का आपराधिक रिकॉर्ड संबंधित थाने से मांग लिया गया है।
रेलवे स्टेशन पर डेरा
एसएचओ बृजेन्द्र सिंह ने बताया आरोपी महिलाओं का डेरा रेलवे स्टेशन रहता है। इनके निशाने पर बड़े शो-रूम तथा दुकानें रहती हैं। वारदात के बाद ये रेलवे स्टेशन के पास अपने डेरों में पहुंच जाती हैं। इसके बाद जैसे ही बड़े पैमाने पर इनके पास चोरी का माल एकत्रित हो जाता है तो ये अपने गांव से ही अन्य रिश्तेदारों को फोन कर बुलाती हैं और उनके साथ चोरी के माल को पार कर ले जाती हैं। पुलिस के अनुसार पांच महिलाओं को दूसरे दिन बुधवार को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से पांचों को न्यायिक अभिरक्षा में भेजने के आदेश हुए हैं।
यह थी वारदात
पुलिस के अनुसार आरोपी महिलाओं ने मंगलवार को खींवसर स्थिति एक व्यापारी की दुकान काे निशाना बनाया था और वहां से करीब नौ हजार कीमत के सूट तथा अन्य कपड़ों को पार कर ले गई थी। इस वारदात की जैसे ही सूचना पुलिस तक पहुंची तो पुलिस ने आरोपी महिलाओं का पीछा शुरू किया तो पांच महिलाएं अपने बच्चों के साथ भागने की फिराक में बस स्टैण्ड पर खड़ी हुई थी। इसके बाद पुलिस ने उक्त महिलाओं को थाने लेकर आई और फिर गिरफ्तारी बताई।

खबरें और भी हैं...