पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बर्ड फ्लू का कहर:3 दिनों में 50 से ज्यादा कौओं की मौत, विभाग के पास 34 ही आंकड़ा, सैंपल 5 के ही

नागौर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना के बाद जिले में बर्ड फ्लू से पक्षी तोड़ रहे हैं दम, जिले में अब तक 9 से ज्यादा क्षेत्रों में पक्षियों के मरने की जानकारी सामने आ चुकी है

इंसानों के लिए कोरोना ने खतरा पैदा कर दिया था, इसी बीच पक्षियों की जान को अब बर्ड फ्लू की दस्तक ने चिंता बढ़ा दी है। जिले में गत दिन दिनों में 50 से ज्यादा कौओं की मौत हो चुकी है। जबकि चौंकाने वाली स्थित यह है कि पशुपालन व वन विभाग के पास मृतक कौओं का आंकड़ा केवल 34 है।

विभाग की तरफ से सामने आए मृतक 34 कौओं में से मात्र 5 कौओं के सैंपल ही जांच के लिए भोपाल भिजवाई गई है। प्रभारी अधिकारी डाॅ. दिलीप गहलोत ने बताया कि जहां कहीं भी एक साथ 5 या उससे अधिक संख्या में पक्षी मृतक मिलते है तो गाइडलाइन के अनुसार उन्हीं के ही सैंपल जांच को भिजवाए जा सकते है। जायल क्षेत्र में ही एक साथ पांच कौए मृतक मिले थे, बाकी जगह पर एक या दो की संख्या में ही मिले। जबकि हकीकत यह है कि मूंडवा के लाखोलाव तालाब में 5 से ज्यादा मृत कौए सहित अन्य पक्षी सामने आ चुके है।

यहां बुधवार को पशुपालन विभाग की टीम को बुलाकर मृत पक्षियों का डिस्पोजल करवाया गया। दरअसल, जिलेभर में गत पांच दिनों से कौओं सहित अन्य पक्षियों के मरने का सिलसिला जारी है। अब तक मेड़ता, बड़ीखाटू, परबतसर, डेगाना, मकराना, जायल, मूंडवा, शेरानी आबाद, रोल सहित अन्य जगहों पर पक्षियों के मरने की जानकारी सामने आ चुकी है।

कई जगहों पर यह देखने को सामने आया कि उड़ाने भर रहे पक्षी अचानक जमीन पर गिर रहे है, तड़प कर कुछ समय में मौतें हो रही है। उल्लेखनीय है कि जिले में अलग-अलग जगहों पर पिछले कई दिनों से पक्षियों की मौत हो रही है। यह हमारे लिए भी बेहद चिंताजनक है।
जानिए, बर्ड फ्लू के ये होते हैं लक्षण
पक्षियों में डायरिया, झटके, सिर झुकना और पेरालिसिस बर्ड फ्लू के लक्षण होते हैं। ये बीमारी तेजी से फैलती है।
मूंडवा : तीन दिनों से मृत कौओं के मिलने से प्रशासन में मचा हड़कंप, सावधानी बरतनी बेहद जरूरी
क्षेत्र में पिछले दो दिनों में दर्जन से अधिक कौए मृत पाए गए। बुधवार कलेक्टर के निर्देशानुसार मूंडवा नायब तहसीलदार भंवरलाल सेन, हल्का पटवारी राजेंद्र सिंह राठौड़ व पटवारी सुशील ने लाखोलाव व ज्ञान तालाब परिसर का भ्रमण करके पक्षियों में फैल रही बीमारी का जायजा लिया। इस दौरान तालाब परिसर में पांच कौए मृत मिले और तीन कौए घायल अवस्था में पाए गए।

नायब तहसीलदार ने मौके पर ही पशु चिकित्सक अधिकारी मूंडवा रामस्वरूप तोषनीवाल को बुलवाकर मृत पक्षियों का डिस्पोजल करवाया तथा बीमार का इलाज करने के निर्देश दिए। साथ ही नायब तहसीलदार ने वन विभाग, नगरपालिका के कर्मिकों को वाटर बॉडीज के आसपास के क्षेत्रों का नियमित भ्रमण करने के निर्देश दिए।
शेरानी आबाद:2 कौए मृत अवस्था में मिले
कस्बे के राउमावि परिसर में दो अलग अलग पेड़ों के नीचे दो कौए मृत मिले। स्कूल स्टाफ को पता चलने पर जानकारी दी। बड़ी खाटू, क्षेत्र के बाद अब शेरानी आबाद क्षेत्र में भी मृत अवस्था में पक्षी मिलने से लोगों में भय का माहौल है।

ध्यान दें, मृत पड़े पक्षी को हाथों से नहीं छुए
संक्रमित पक्षियों से दूर रहें। मरे पक्षियों के पास बिल्कुल न जाएं। नॉनवेज खाना ही है तो खरीदते समय साफ-सफाई का ध्यान रखें। संक्रमण वाले इलाकों में न जाएं। ध्यान रखें कि इस प्रकार के मृत पक्षी को अपने हाथों से नहीं छुए, बल्कि दस्ताने पहनकर छुएं। इस रोग का एच 4 एन 1 वायरस आंख नाक मुंह के रास्ते शरीर में प्रवेश करने से फैल सकता है। पक्षियों को छूते समय चश्मा दस्ताने व मास्क का आवश्यक प्रयोग करें।
पक्षी मृतक या बीमार मिले यहां दें सूचना

उप वन संरक्षक ज्ञानचंद ने बताया कि संक्रामक रोग बर्ड फ्लू को देखते हुए घरों, खेतों, देवालयों, जलाशयों के निकट या अन्य स्थान पर कोई भी मृत पक्षी पाए जाने पर या पक्षियों के बीमार होने की स्थिति में जिला नियंत्रण कक्ष 01582-240830 पर या नियंत्रण कक्ष नागौर प्रभारी अधिकारी डाॅ. दिलीप गहलोत वी.ओ 9680715222 तथा कुचामन सिटी प्रभारी डाॅ. भगत सिंह ए.वी.ओ 9414422781 को सूचना दे सकते है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें