धरना प्रदर्शन:मांगाें को लेकर 22वें दिन भी नरेगा कर्मियों का पशु प्रदर्शनी स्थल पर धरना प्रदर्शन जारी

नागौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

महात्मा गांधी नरेगा कार्मिक संघ राजस्थान के आह्वान पर नरेगा कर्मियों का धरना प्रदर्शन लगातार जारी है। बुधवार को 22वें दिन भी नागौर पशु प्रदर्शनी स्थल पर नरेगा संविदा कार्मिक संघ नागौर का धरना प्रदर्शन जारी रहा।

नरेगा कार्मिक संघ जिला सचिव सोनाराम नायक ने बताया कि कांग्रेस सरकार ने अपने पिछले कार्यकाल में सभी नरेगा कर्मियों को स्थाई करने के लिए एसएसआर व एलडीसी भर्ती 2013 भर्तियां निकाली, जिसमें एलडीसी भर्ती में 7000 कर्मियों को 10, 20, 30 बोनस अंक देकर नियुक्तियां दे दी व शेष 10029 एलडीसी नियुक्तियां व एसएसआर भर्ती राजस्थान हाई कोर्ट में बोनस अंक विवाद दायर होने के कारण भर्तियां अटक गई थी।

फिर यह संविदा कर्मियों ने अटकी भर्तियां के शुरु करवाने व बोनस अंक विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट गए, जहां 2016 में निर्णय संविदा कर्मियों के पक्ष हो गया व सुप्रीम कोर्ट ने भर्तियां शुरु करने के निर्देश राज्य सरकार को दे दिए थे। तत्कालीन सरकार ने यह भर्तियां कांग्रेस सरकार की होने के कारण इस ओर कोई विशेष ध्यान नहीं दिया।

नरेगा संविदा कर्मी लगातार थोथी घोषणाओं के शिकार होते गए। तब संपूर्ण राजस्थान के नरेगा संविदा कार्मिकों ने आंदोलन का रास्ता अपनाया। इस दौरान धरना स्थल पर जिला अध्यक्ष रुपाराम नेहरा, जिला सचिव सोना राम नायक, नागौर ब्लॉक अध्यक्ष सुरेश काला, खींवसर ब्लॉक अध्यक्ष गोरखाराम, सहकोषाध्यक्ष कमल तंवर, ब्लॉक अध्यक्ष परबतसर रामप्रसाद शर्मा, भैराराम गोदारा, पार्वती, अंजली गौड़, संग्रामसिंह बेनिवाल, भंवर राम गोदारा, ओमप्रकाश बारुपाल, ओमप्रकाश शर्मा मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...