जिले में कोरोना से 13वीं मौत / हरनावां में कोरोना से वृद्धा की मौत, लाडनूं में परिवार के 7 संक्रमित, जिले में 12 नए मामले

हरनावां. महिला के शव को सुपुर्द-ए-खाक करते हुए। हरनावां. महिला के शव को सुपुर्द-ए-खाक करते हुए।
X
हरनावां. महिला के शव को सुपुर्द-ए-खाक करते हुए।हरनावां. महिला के शव को सुपुर्द-ए-खाक करते हुए।

  • परिवार के चुनिंदा लोगों की मौजूदगी में सुपुर्द-ए-खाक, शिमला से भी 1 केस

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:00 AM IST

नागौर. हरनावां में सोमवार को कोरोना से एक की मौत हो गई, जबकि लाडनूं में एक ही परिवार के 7 सहित 9 पॉजिटिव मामले, नागौर में 2 व 1 जोधियासी में नया मामला सामने आया है। हरनावां में गत 21 जून को  पॉजिटिव आई 79 वर्षीय महिला की इलाज के दौरान कुचामन के कोविड सेंटर में रविवार देर रात मौत हो गई।

परबतसर बीसीएमओ डॉ. डीपी जोशी ने बताया कि वृद्धा को कुचामन के कोविड सेंटर भिजवाया था, जहां इलाज चल रहा था लेकिन इस दरमियान उसकी दोनों रिपोर्ट्स भी पॉजिटिव आई। रविवार की देर रात उसने दम तोड़ दिया। मेल नर्स सतवीर सिंह यादव ने बताया कि वृद्धा 18 जून को मुम्बई से अपने पति के साथ ट्रेन से जोधपुर होते हुए हरनावां आई थी, जिसकी अगले दिन कोरोना जांच करवाई, जिसमें वह पॉजिटिव पाई गई थी।

सोमवार को प्रातः 11 बजे महिला का शव लेकर 108 कुचामन से हरनावां के कब्रिस्तान पहुंची, जहां प्रशासनिक अधिकारी, पुलिस और चिकित्सा विभाग की टीम ने पहुंच कर चुनिंदा परिजनों के साथ महिला को सुपुर्द-ए-खाक किया। चिकित्सा विभाग से सतवीर सिंह यादव, गच्छीपुरा थानाधिकारी अब्दुल रहुफ, वीडीओ महिपाल सिंह, पटवारी दीनदयाल वैष्णव सहित परिजन मौजूद रहे।

इधर..., डीडवाना के बांगड़ अस्पताल में अब एक भी संक्रमित नहीं, सब मरीजों के ठीक होने पर भेजा घर
डीडवाना| डीडवाना क्षेत्र के राजकीय बांगड़ अस्पताल में कोरोना से संबंधित अभी तक 2260 लोगों के सैम्पल लिए जा चुके हैं और लगभग सभी की रिपोर्ट आ चुकी है। अधिकांश निगेटिव रहे व जिनकी पॉजिटिव रिपोर्ट आई थी उनका बांगड़ अस्पताल में इलाज भी हुआ और वर्तमान तक सभी रोगियों को पूर्ण रूप से स्वस्थ कर डिस्चार्ज कर दिया गया है।

इस प्रकार वर्तमान में डीडवाना में एक भी कोरोना पॉजिटिव नहीं है। बांगड़ अस्पताल के अमरीश माथुर ने बताया कि मार्च अंतिम माह से अभी तक बांगड़ अस्पताल की ओर से 2260 लोगों के सैम्पल लिए जा चुके थे, जिनमें 2231 की रिपोर्ट आ चुकी है। 29 की रिपोर्ट आना अभी बाकी है। उन्होंने बताया कि प्राप्त रिपोर्ट में 2190 की जांच निगेटिव आ चुकी है।

41 की पॉजिटिव रही एवं बांगड़ अस्पताल में 41 पॉजिटिव के अलावा लाडनूं, डेगाना आदि क्षेत्रों से मिलाकर कुल 52 पॉजिटिव रोगियों को भर्ती किया गया था, जिनका इलाज भी हुआ, उनमें हालांकि तीन को रेफर कर दिया था एवं 49 संक्रमितों का इलाज हुआ। वे सभी स्वस्थ होकर अपने-अपने घर चले गए। वर्तमान में अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में एक भी कोरोना पॉजिटिव नहीं है, जो इस क्षेत्र के लिए सुखद खबर है।

लाडनूं : लैब टेक्नीशियन भी कोरोना संक्रमित, अस्पताल की पूरी लेबोरेट्री बंद कराई, अब नया कार्मिक लगाएंगे
लाडनूं। यहां कोरोना का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। सोमवार को फिर यहां से दो बच्चों सहित 9 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए है। इन सभी को जसवंतगढ़ में बनाए गए कोविड केयर सेंटर में भर्ती करवाया गया है। यहां महाराष्ट्र के सांगली से आए परिवार से हाल ही में गत 26 जून को एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिला था।

उसके परिवार के सभी लोगों के सैम्पल गत शनिवार को प्राप्त कर जांच के लिए भिजवाए गए थे, जिसमें 7 जने कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इनमें 3 साल से लेकर 53 साल तक की आयु के व्यक्ति शामिल है। इनमें शामिल दो बच्चों में एक बालिका है और दूसरी एक महिला भी है। इसी प्रकार 26 जून को शिमला ग्राम में दिल्ली से आए एक युवक के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद लिए गए सैम्पल में एक 25 वर्षीय युवक भी संक्रमित पाया गया है।

यह व्यक्ति ऑटो रिक्शा चलाने का काम करता है तथा दिल्ली से शिमला आए व्यक्ति के घर में कूलर रखने के लिए गया था, तब संक्रमण का शिकार हो गया। इनके अलावा यहां के राजकीय चिकित्सालय में प्रयोगशाला में काम कर रहे लैब टेक्नीशियन भी कोरोना संक्रमित पाया गया है। यह 30 वर्षीय लैब टेक्नीशियन संविदा पर कार्यरत था। इसके मिलने के बाद हॉस्पिटल में लेबोरेटरी बंद कर दी गई है। लैब में कार्यरत सभी कार्मिकों के सैम्पल जांच के लिए प्राप्त किए जाकर उन्हें क्वारेंटाइन के लिये भेज दिया गया है। लेबोरेटरी में अन्य टेक्नीशियनों को लगा शुरू किया जाएगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना