अव्यवस्थाओं की भरमार:समय पर रिपोर्ट नहीं मिलने से मरीज भी परेशान

नागौर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दो और मौतों के साथ जिले में 179 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पाॅजिटिव

कोरोना महामारी से दो और मौतों के साथ गुरुवार को चिकित्सा विभाग की ओर से जारी रिपोर्ट में 179 लोगाें की पॉजिटिव रिपोर्ट आई। इस तरह जिले में एक्टिव केस 1224 हो गए हैं। जबकि मौतों का आंकड़ा 122 तक पहुंच चुका है। बावजूद सैंपलों की जांच में चिकित्सा विभाग की व्यवस्थाएं पूरी तरह ठप हैं।

गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग की ओर से 2707 सैंपल लिए गए, लेकिन 2914 सैंपल अभी तक पेंडिंग हैं, जिनकी अभी तक रिपोर्ट नहीं आई है। ऐसे में जिनकी रिपोर्ट शेष है वे अभी रिपोर्ट के इंतजार में ही है। ऐसे लोगों तक प्रभावी उपचार भी नहीं पहुंच रहा है। जो संक्रमण की दिशा में विभाग का अप्रभावी कदम साबित होता दिखाई पड़ रहा है।

इतना ही नहीं लोगों को कोरोना के सैंपल देने से लेकर उनकी रिपोर्ट जानने व अन्य प्रक्रियाओं में भी काफी समय एवं परेशान होना पड़ रहा है। इसके अलावा कई चक्कर भी लगाने पड़ रहे हैं।
इसमें सुधार की आवश्यकता

जानकारोें के अनुसार कोरोना के समय बार-बार हॉस्पिटल के चक्कर लगाना किसी के लिए भी भारी पड़ सकता है। कोरोना की जांच के लिए लोगाें को पहले हॉस्पिटल में चिकित्सक को दिखाना पड़ता है। या पर्ची लेनी पड़ती है। फिर रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ता है। बाद में सैंपल के लिए घंटों तक प्रतीक्षा करनी पड़ती है। इसके बाद रिपोर्ट के लिए पूरा एक दिन या दो दिन का इंतजार करना पड़ता है। जिले में कोरोना की स्थिति: जिले में कुल संक्रमित 13016 हो गए हैं। जबकि 11670 उपचार के बाद ठीक हो चुके हैं। वहीं सैंपल 325097 लिए जा चुके हैं। सीएमएचओ ने बताया कि आंकड़े रात को तैयार होते हैं। इसके बाद रिपोर्ट तैयार होती है। उससे पहले उनको भी पता नहीं रहता है।

खबरें और भी हैं...