घरों की नीवाें में घुसने से दीवारें हुई कमजोर:पानी सप्लाई में कार्मिक की मनमर्जी, रोज बह रहा पानी

नागौर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मूंडवा तहसील के लालाप ग्राम पंचायत मुख्यालय पर जलदाय विभाग के संविदा कर्मी की मनमर्जी का खामियाजा गांव के 5 हजार लोगों को पिछले छह माह से भुगतना पड़ रहा है। गांव में पेयजल की सुविधा है लेकिन लोगों को फायदा मिलने की बजाय नुकसान झेलना पड़ रहा है।

ग्रामीण साबुराम मुंडेल, जयदेव साद, बंशीलाल शर्मा, शैतानराम, महिपाल, सुरेश ने बताया कि गांव में लंबे समय से पानी व्यर्थ बह रहा है। वॉल्व चालू-बंद करने व सप्लाई की देखरेख के लिए जिस कार्मिकों को लगाया गया है वो मनमर्जी से सप्लाई कर रहा है। जरूरत के समय पानी सप्लाई करने की बजाय रात में लोगों के सोने के बाद या दिन में खेतों में जाने के बाद पाइपों में पानी छोड़ता है जिस कारण से पानी का सदुपयोग होने की बजाय मार्ग पर खुला चलता रहता है। ऐसे में पूरे गांव में गलियों में व्यर्थ बहते पानी से कीचड़ फैल रहा है। वहीं नालियों की सफाई नहीं होने और पानी की निकासी नहीं होने के कारण इस फैले कीचड़ में मच्छर पनपने लगे है जिस कारण से मौसमी बीमारियों के फैलने का भी डर है।

गांव में कोरोना व डेंगू के मरीज नहीं लेकिन अब मच्छर पनपने से सताने लगा है डर
सरकार एक तरफ कोरोना और डेंगू की रोकथाम के लिए स्वच्छता बनाए रखने व साफ-सफाई को लेकर अभियान चला रही है। वहीं दूसरी ओर गांव में पानी की निकासी नहीं होने तथा लापरवाही से व्यर्थ बहाने से फैले कीचड़ में मच्छर पनप रहे है। गनीमत है कि अब तक गांव में कोई कोरोना व डेंगू बीमारी का पॉजिटिव मरीज नहीं मिला है लेकिन अब कीचड़ में फैल मच्छरों से ग्रामीणों को डर सताने लगा है। ग्रामीणों ने बताया कि जनप्रतनिधियों व प्रशासन को कई बार अवगत कराने के बाद भी कोई समाधान नहीं निकला। जिससे लोग बार बार परेशान हो रहे है।

ग्रामीण बोले : कई बार अधिकारियों को बता दिया
समस्या को लेकर कई बार अधिकारियों को अवगत करा दिया। लेकिन कार्मिक विपक्ष की सह का होने के कारण गांव के लोगों को परेशान कर रहा है। गांव में सफाई कराना चाहते है। व्यर्थ बहते पानी से कीचड़ से निजात नहीं मिल पा रही है। विभाग व्यर्थ बहते पानी को रोक दे तो पंचायत द्वारा नालियों की जल्द सफाई कराई जाएगी ताकि निकासी हो सके।- गुड्डी देवी, सरपंच, लालाप।

मेरे मामला ध्यान में नहीं था। आज ही पता करवाकर कार्मिक को पाबंद करता हूं। ग्रामीणों की समस्या का हर संभव प्रयास किया जाएगा। आज से लोगों को जरूरत के हिसाब से ही पानी की सप्लाई मिलेगी। व्यर्थ पानी बहने की समस्या अब नहीं रहेगी। लोगों की समस्या का समाधान जल्दी ही करवाया जाएगा।- राजेश पुरोहित, एसई, प्रोजेक्ट सर्किल नागौर।

खबरें और भी हैं...