पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

होली पर्व:शहर में खेली गेर, युवक-युवतियां चंग की थाप पर नाचे

नागौर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गुंगसा की गली में देवर और भाभी के बीच खेली जा रही कोडा मार होली। - Dainik Bhaskar
गुंगसा की गली में देवर और भाभी के बीच खेली जा रही कोडा मार होली।

शाकद्वीपीय मग ब्राह्मण समाज द्वारा होली की गेर निकाली गई। जिसमें अशोक रोहिणी, सुनील शर्मा, उम्मेदराज शर्मा भीमराज शर्मा व समाज के काफी लोग शामिल हुए। सूर्य प्रतिष्ठान बाड़ीकुआ से गेर निकाली गई।

समाज के प्रवक्ता राजेश कुवेरा ने बताया कि गेर का शुभारंभ गणपति वंदना से किया गया। गेर सूर्यप्रतिष्ठान से प्रारंभ होकर प्रताप सागर कॉलोनी, सैनिक बस्ती, इंद्रा कॉलोनी, व्यास कॉलोनी, शारदापुराम, सुराणा की बारी, बाहेतियों की गली, पिपली गली, बालसमंद, पंचोलियों की पोल, हाउसिंग बोर्ड होते हुए अमरसिंह कॉलोनी पहुंची। परंपरा के अनुसार जिन घरों में संतान का जन्म हुआ उन परिवारों में ढूंढ की गई।

मूंडवा, फिडोद में होली पर्व पर डांडिया नृत्य, होलिका दहन एवं होली उखाड़ने की परंपरा देखने के लिए ग्रामीण उमड़े। होलिका दहन से पूर्व लोगों ने चंग की थाप पर नृत्य किया और फाग के गीत गाए। डांडिया में रंग-बिरंगे परिधानों में महिला व युवतियों और नन्हें-मुन्ने बालक-बालिकाओं ने फिल्मी गीतों व भजनों पर थिरकते हुए डांडिया की प्रस्तुतियां देते हुए वातावरण को कभी पाश्चात्य तो कभी भक्ति के रंग में रंगकर सरोबार कर दिया।

इस दौरान रामनिवास पट्टीदार, राजु, भंवरलाल, रामकैलास, भारमल, शिवनारायण, अनिल भाकल, सुरेंद्र, दामोदर फिड़ौदा, आशाराम, दिनेश पट्टीदार, दिनेश फौजी, नरेश, दिनेश, रिछपाल, मनीष, ऊर्जा, हनुमान, अरविंद और दरियाव युवा मंडल आदि मौजूद रहे।

अहमदपुरा में एक परिवार के 100 सदस्यों ने एक साथ होली मनाई

खींवसर, अहमदपुरा में पुरानी परंपरा को अभी भी एक परिवार ने कायम रखा है। होली के अवसर पर परिवार के लगभग 100 से ज्यादा सदस्यों ने संयुक्त रुप से सूखी होली मना कर समाज को संदेश दिया है। नथाराम और आसाराम जाजड़ा चौधरी ने बताया हमारे नौ भाईयों का परिवार संयुक्त रूप से रहता है। सबसे बड़ी खासियत यह है कि परिवार नशा मुक्त हैं और वर्तमान परिवेश को देखते हुए शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी हैं।

हमारे परिवार में लगभग 15 युवा शिक्षा के क्षेत्र में अपना नाम रोशन करते हुए राजकीय और निजी क्षेत्रों में सेवाएं दे रहे हैं। गौरतलब है कि यह परिवार एक ही जाजम पर बैठकर अपने सुख-दुख की बातें करते हुए ऐसे मौकों पर साथ में भोज लेते हैं। परिवार की बुजुर्ग महिला सुट्टी देवी ने बताया आजकल के दौर में मोबाइल ने पुराने रीति-रिवाज को धूमिल कर दिया है। लेकिन वो अभी भी अपने परिवार की छोटी बच्चियों को भी पुराने रीति रिवाज के अनुसार गीत सुना कर उन्हें याद कराती है।

कुचेरा थाने में कार्यरत रूण बीट अधिकारी अजयपाल जाजड़ा ने बताया कि हमारे परिवार के सदस्य वर्तमान में एसडीएमसी शालाध्यक्ष लक्ष्मण राम और भंवरूराम ने निर्णय लिया कि शिक्षा के क्षेत्र में हमेशा योगदान देते आया हैं और इस बार भी गांव की सरकारी स्कूलों में विकास के लिए भरपूर मदद की जाएगी।

मूण्डवा, लोक प्रचलित परम्पराओं के अनुसार होली मनाई। रूण व फिडोद में भी होली पर्व पर डांडिया नृत्य, होलिका दहन एवं होली उखाड़ने की परंपरा देखने के लिए ग्रामीण आए। होलिका दहन से पूर्व लोगों ने चंग की थाप पर नृत्य किया और फाग के गीत गाए।

रोल, रंगों का त्योहार होली का पर्व सादगी से मनाया गया। रविवार शाम को शुभ मुहूर्त में होली का दहन किया गया। सोमवार को एक दूसरे के घर जाकर रामा श्यामा करते हुए होली की बधाई दी गई। ग्रामीणों द्वारा रंग व गुलाल से भी होली खेली गई।

गोगेलाव, होलिका दहन रविवार रात किया गया। पुजारी गिरिराज व्यास ने बताया कि होली दहन का हुआ। इस अवसर पर ग्रामीणों ने होली दहन किया उसके बाद गांव के मुख्य गवाड़े अलग-अलग करतब का आयोजन हुआ जिसमें लकड़ी प्रतियोगिता मुकदर प्रतियोगिता कुश्ती वॉलीबॉल प्रतियोगिता हुई। गिरधारी सिंह, दिनेश भारती, नाथूराम चोटिया, मांगू सिंह मौजूद रहे।

कुचेरा, होली के अवसर पर घरों में शाम के समय परम्परागत व्यंजन बाजरे का खीचड़ा, लापसी, हलवा बनाकर लुत्फ उठाया। उसके बाद होलिका दहन का कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। मिर्धा कॉलोनी स्थित विधायक विजयपाल मिर्धा के निवास पर होली स्नेह मिलन का आयोजन कर जनसमस्याएं सुनी गई।

इस अवसर पर शहर सहित क्षेत्र के ग्रामीणों सहित डेगाना पंचायत समिति क्षेत्र के ग्रामीणों ने मिर्धा निवास पहुंचकर जनसमस्याएं सुनाई। इस मौके पर रिछपाल सिंह मिर्धा, पालिकाध्यक्ष तेजपाल मिर्धा, भूरा राम मिर्धा, दीपक अग्रावत, शिव बांगड़ा, अजय जोशी मौजूद रहे।

सोयला, रविवार को शाम शुभ मुहूर्त में ग्रामीणों ने होलिका दहन किया। युवाओं ने सुबह सवेरे प्रहलाद का रोपण कर विभिन्न रंगों से रंगोली बनाई।

संखवास, बच्चों ने बुजुर्गों से आशीर्वाद लेकर होली की मुबारकबाद दी और एक-दूसरे पर गुलाल लगाया खासकर युवाओं में जोश देखने को ही बनता था। युवाओं की टोली एक-दूसरे पर गुलाल लगाकर होली की शुभकामना दे रही थी। इस त्योहार में कस्बे में सांप्रदायिक सौहार्द देखने को मिला और मुसलमान युवाओं ने भी अपने साथी हिंदू युवाओं को गुलाल लगाया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपका अधिकतर समय परिवार तथा फाइनेंस से जुड़े महत्वपूर्ण कार्यों में व्यतीत होगा। और सकारात्मक परिणाम भी सामने आएंगे। किसी भी परेशानी में नजदीकी संबंधी का सहयोग आपके लिए वरदान साबित होगा।। न...

    और पढ़ें