पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लापरवाही:नमक रिफाइनरियों से हो रहा है प्रदूषण, ग्रामीणों ने एकत्रित हो बंद कराई फैक्ट्री

नावां सिटीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गोविंदी के ग्रामीणों ने प्रदूषण नियंत्रण विभाग पर लगाया अनदेखी का आरोप

नावां सहित राजास व गोविन्दी में नमक रिफाइनरियां संचालित हो रही है। नमक रिफाइनरियों के प्रदूषण से आमजन काफी परेशान है इसके बावजूद कभी भी प्रदूषण नियंत्रण विभाग की ओर से रिफाइनरी संचालकों पर प्रभावी कार्रवाई नहीं की जाती है। जिससे नमक उद्यमियों को हौंसले बुलन्द हो रहे हैं और आमजन व किसान इसे अपनी मजबूरी समझ कर सहन कर रहे है। लोगों की ओर से कई बार शिकायतें होने के बाद भी प्रदूषण नियंत्रण विभाग की ओर से कोई प्रभावी कार्यवाही नहीं की जाती है।

इससे परेशान होकर गुरुवार की सुबह ग्राम गोविंदी के लोगों ने एकत्रित होकर गोविंदी में संचालित एक नमक रिफाइनरी को बंद करवाया। ग्रामीणों ने बताया कि नमक रिफाइनरी से बहुत प्रदूषण होता है। लोगों ने कहा कि चिमनी से निकलने वाला काला व स्वास्थ्य के लिए हानिकारक धुंआ आमजन तक नहीं पहुंचना चाहिए। रिफाइनरी संचालकों को कई बार बताने पर भी सुधार नहीं किया जाता है। रिफाइनरी से निकलने वाले काले धुंए से राख खेतों व लोगों के मकानों की छत पर गिरती है, इसके साथ ही श्वास के जरिए लोगों के शरीर में जाकर नुकसान करती है।
शिकायतों का नहीं हो रहा है असर, दिनों दिन बढ़ रहे प्रदूषण से नुकसान बढ़ा
नमक रिफाइनरी के आस पास रहने वाले लोगों ने कई बार प्रदूषण बोर्ड को भी इसकी शिकायत की। लेकिन प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की ओर से कोई प्रभावी कार्रवाई नहीं की गई। जिससे ग्रामीणों की समस्या कम होने की बजाय बढ़ गई। शिकायतों के बाद कार्रवाई नहीं होने से नमक उत्पादकों के हौसले बढ़ते है। प्रदूषण कम होने की बजाय और अधिक बढ़ता है। नतीजतन लोग पूरी तरह से परेशान हो चुके है। प्रशासन से कार्रवाई की गुहार की है।
प्रशासन ध्यान नहीं देता
कई बार उपखंड अधिकारी को ज्ञापन दिया गया लेकिन नमक रिफाइनरी के खिलाफ कभी भी कार्यवाही नहीं हुई। जिससे नमक रिफाइनरी के आसपास रहने वाले लोगों की परेशानी का समाधान नहीं हो पाया। अंत में ग्रामीणों ने परेशान होकर नमक रिफाइनरी में जाकर हंगामा किया और रिफाइनरी को बंद करवा दिया।
लीपापोती : नोटिस देने के बाद नहीं हुई कोई कार्रवाई
गत दिनों भास्कर की ओर से नमक रिफाइनरियों से हो रहे प्रदूषण का यह मुद्दा उठाया गया लेकिन प्रशासन की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई। इसके साथ ही प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की ओर से सभी नमक रिफाइनरियों को नोटिस दिए गए थे। लेकिन प्रभावी कार्रवाई नहीं कर लीपापोती कर दी गई।
अवैध रूप से किए जा रहे है झील क्षेत्र में बोरवेल

उल्लेखनीय है कि नावां क्षेत्र में अवैध रूप से बोरवैल भी किए जा रहे हैं, जिससे क्षेत्र में भूमिगत जल स्तर भी घट रहा है। अवैध रूप से किए जा रहे बोरवैल से ब्राइन निकाल कर नमक का उत्पादन किया जा रहा है। प्रशासन की ओर से केवल कुछ जगहों पर ही कार्रवाई कर बोरवैल आदि नष्ट करवा दिए जाते हैं। वृहद स्तर पर कार्रवाई नहीं होने से क्षेत्र में अनेक बोरवैल झील क्षेत्र में अवैध रूप से बने हुए है।

ब्राइन फैक्ट्री से बाहर निकाल रहे थे

  • नमक रिफाइनरी संचालकों की ओर से ब्राइन फैक्ट्री से बाहर निकाला जा रहा था। साथ ही नमक का पाउडर हवा में उड़ाया जा रहा था। जिससे काश्तकार परेशान थे। इसीलिए फैक्ट्री में हंगामा कर बंद करवाया गया। - ज्ञानाराम गुर्जर, सरपंच प्रतिनिधि।
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी सकारात्मक और संतुलित सोच द्वारा कुछ समय से चल रही परेशानियों का हल निकलेगा। आप एक नई ऊर्जा के साथ अपने कार्यों के प्रति ध्यान केंद्रित कर पाएंगे। अगर किसी कोर्ट केस संबंधी कार्यवाही चल र...

    और पढ़ें