पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Nagaur
  • Posting On Social Media About The Gang Rape Of A Minor Girl In Nagaur, She Wrote – The Pride Of Daughters Became The Price Of Unconscious Law And Order In The State; Demand For Strict Action Against The Accused In The Case

राजसमंद सांसद दीयाकुमारी ने राज्य सरकार पर साधा निशाना:नागौर में नाबालिग बच्ची से गैंगरेप को लेकर सोशल मीडिया पर पोस्ट कर लिखा- प्रदेश में अचेत कानून व्यवस्था की कीमत बनी बेटियों की अस्मत; आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई हो

नागौर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राजसमंद सांसद व बीजेपी प्रदेश महामंत्री दीयाकुमारी। - Dainik Bhaskar
राजसमंद सांसद व बीजेपी प्रदेश महामंत्री दीयाकुमारी।

नागौर में नाबालिग लड़की से सामूहिक दुष्कर्म मामले को लेकर राजसमंद सांसद व बीजेपी प्रदेश महामंत्री दीयाकुमारी ने राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर दैनिक भास्कर डिजिटल की खबर के लिंक को शेयर करते हुए लिखा कि राज्य सरकार के कुशासन में अचेत पड़ी कानून व्यवस्था की कीमत बेटियों की अस्मिता बन रही है। उन्होंने नागौर में नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना को भी अत्यंत हृदयविदारक बताया है।

सांसद दीयाकुमारी ने ट्विटर पोस्ट कर घटना को बताया हृदयविदारक।
सांसद दीयाकुमारी ने ट्विटर पोस्ट कर घटना को बताया हृदयविदारक।

राजसमंद सांसद व बीजेपी प्रदेश महामंत्री दीयाकुमारी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्ट करते हुए लिखा कि नागौर में नाबालिग बालिका के साथ हुई गैंगरेप की ये घटना प्रदेश में महिला सुरक्षा की हकीकत बयां करती है। राज्य सरकार की लचर कानून व्यवस्था के कारण रोजाना महिला अत्याचार के मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। सरकार एवं प्रशासन को इस मामले पर गंभीरता से संज्ञान लेकर आरोपियों के खिलाफ़ सख्त कार्रवाई करनी चाहिए।

फेसबुक पोस्ट में आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की हुई मांग।
फेसबुक पोस्ट में आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की हुई मांग।

ये था मामला
नागौर के एक लड़की गांव के सरकारी स्कूल में किताबें जमा करवाने गई थी। जब वो किताबें जमा करवाकर वापस अपने घर जा रही थी तो वहां पहले से घात लगाकर मोटरसाइकिल पर बैठे प्रदीप सैन पुत्र महेंद्र सैन (22) व एक नाबालिग लड़के ने उसे पकड़कर मुंह में कपड़ा ठूंस दिया और मोटरसाइकिल पर बैठाकर एक सुने पड़े मकान में ले गए। वहां उन्होंने युवती को कमरे में बंद कर नशीला पदार्थ पिलाकर बेहोश कर दिया। इसके बाद दोनों आरोपियों ने उसके साथ बारी-बारी दुष्कर्म किया। पीड़िता को वहीं कमरे में बंद कर ताला लगाकर भाग गए।

होश आते ही चिल्लाई पीड़िता, पड़ोस के लोगों ने पुलिस को बुलवाकर तोड़ा ताला
थोड़ी देर बाद पीड़िता को होश आया और उसने अपनी हालत को देखा तो वो डर गई और उसने कमरे का दरवाजा खोल बाहर निकलने का प्रयास किया, लेकिन बाहर ताला लगा होने से निकल नहीं पाई। इसके बाद वो जोर-जोर से चिल्लाने लगी तो आस-पड़ोस और रास्ते से निकल रहे लोगों की भारी भीड़ वहां जमा हो गई। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने कमरे का ताला तोड़ पीड़िता को बाहर निकाला।

पीड़िता ने बताई आरोपियों की कारस्तानी
पीड़िता बाहर आते ही रो पड़ी और चीखने-चिल्लाने लगी। इसके बाद थोड़ा दिलासा दिए जाने और उसके पिता के मौके पर पहुंचने के बाद पीड़िता ने अपने साथ हुई आपबीती सबके सामने उजागर कर दी। अब पीड़िता के पिता की शिकायत पर दोनों आरोपियों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। एक आरोपी नाबालिग है और दोनों आरोपी रिश्ते में मामा के बेटे भाई हैं। पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

स्कूल में किताबें जमा कर लाैट रही नाबालिग काे बेहोश कर दुष्कर्म किया, कमरे में बंद कर भागे; चिल्लाई तो पड़ोसियों ने ताला तोड़ निकाला बाहर

खबरें और भी हैं...