पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना के साये में रमजान मुबारक:जुमातुल विदा पर घरों में अदा की जोहर की नमाज, कोरोना से निजात की दुआएं मांगी

नागौरएक महीने पहले
कोरोना के चलते इस बार जुमातुल की नमाज घर पर ही अदा की।

जिले में कोरोना की रफ़्तार बरकरार है। हर गुजरते दिन के साथ हालात बेकाबू हो रहे हैं। इसका असर अब माहे रमजान पर भी पड़ा है। जिले के शेरानी आबाद सहित ग्रामीण अंचलों में शुक्रवार को जुमातुल विदा पर जोहर की नमाज अकीदत व एहतराम के साथ कोरोना गाईडलाइन के तहत लोगों ने अपने घरों में हीं अदा की एवं कोरोना से निजात व छुटकारे की विशेष दुआएं मांगी। इस मौके पर हिंदुस्तान के लिए अमन चैन व खुशहाली की भी विशेष दुआएं की गई।

मस्जिदों से कोरोना जागरूकता सन्देश हुआ प्रसारित
इस दौरान मस्जिदों से वर्तमान समय में कोरोना वायरस को लेकर जागरूकता का संदेश भी प्रसारित किया गया। इस मौके पर जामा मस्जिद के मौलाना अब्दुल हकीम मिस्बाही ने बताया कि हमें इस बेबसी लाचारी और मजबूरी के दौर में अल्लाह से इबादत कर के नबी ए करीम सल्लल्लाहो अलेही वसल्लम से रूहानी तालुक बहुत ज्यादा मजबूत करने की आवश्यकता है।

कोरोना के चलते ये है जिले की स्थिति
गुरुवार शाम को आई सरकारी रिपोर्ट में जिले में 172 नए मरीज मिले तो 178 मरीज ठीक होकर रिकवर हुए। वहीं संक्रमण के कारण 2 मरीजों की मौत हुई। अब तक कोरोना के चलते हुई मौतों का आंकड़ा 132 तक पहुंच गया। जबकि एक्टिव संक्रमितों की संख्या रिकॉर्ड 1614 तक पहुंच गई। जिले में अब तक हुए कुल संक्रमितों का आंकड़ा भी 14291 है, तो वहीं 12545 लोगों को ठीक होने पर डिस्चार्ज भी किया जा चुका है।

फोटो : अली शेर खान, शेरानी आबाद

खबरें और भी हैं...