जोधपुर एम्स निदेशक की कार्यशैली पर बेनीवाल ने उठाए सवाल:RLP सुप्रीमो बोले- नियम विरुद्ध की गई संविदा भर्तियां, एक डॉक्टर ने भी किया सुसाइड

नागौर6 महीने पहले
RLP सुप्रीमो व नागौर सांसद बेनीवाल।

RLP सुप्रीमो व नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने सोमवार को संसद में चर्चा के दौरान बोलते हुए जोधपुर एम्स हॉस्पिटल निदेशक की कार्यशैली को लेकर सवाल उठाये। उन्होंने कहा कि जोधपुर एम्स में हुई नियम विरूद्ध भर्तियां, इसके बाद उतपन्न स्थिति, एम्स निदेशक के गैर जिम्मेदाराना रवैये और यहां के एक डॉक्टर के सुसाइड कर लेने के मामले की केंद्र सरकार को जांच करानी चाहिए।

RLP सुप्रीमो व नागौर सांसद बेनीवाल ने कहा कि पिछले कुछ सालों में एम्स जोधपुर में संविदा आधारित भारतियों में भारी गड़बड़ियां हुई है हुई है। वहां मनमर्जी से भेड़-बकरियों की तरह युवाओं को भर्ती किया गया है। जिसकी केंद्र सरकार जांच करवाए। उन्होने यहां एम्स डॉक्टर के सुसाइड कर लेने और कोरोना में एम्स में हुई सबसे ज्यादा मौतों पर भी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मान्डविया का ध्यान आकर्षित किया।

उन्होंने कहा कि वो लगातार एम्स की जांच की मांग कर रहे है। एम्स जोधपुर उनके संसदीय क्षेत्र नागौर का नजदीकी है। नागौर से जोधपुर एम्स में हजारों मरीज इलाज कराने जाते है, इसलिए वहां की सुचारु व्यवस्थाओं के लिए वो चिंतित है।

खबरें और भी हैं...