मंत्री शाले मोहम्मद का नागौर दौरा:कहा- छात्रों को बेहतर सुविधाएं देना सरकार की प्राथमिकता, जनसुनवाई भी की

नागौर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नागौर में अल्पसंख्यक मामलात, वक्फ,उपनिवेशन, कृषि सिंचित क्षेत्र विकास एवं जल उपयोगिता विभाग मंत्री शाले मोहम्मद रविवार को नागौर जिले के एक दिवसीय दौरे पर रहे। इस दौरान उन्होंने मदरसा फैजाने अशफाक में मुख्यमंत्री मदरसा आधुनिकीकरण योजना अंतर्गत भवन विस्तार निर्माण कार्य एवं मुख्यमंत्री मदरसा आधुनिकीकरण योजना अंतर्गत मदरसा दारुल उलूम अहले सुन्नत फैजाने अशरफ शिक्षण संस्थान बासनी में मुख्यमंत्री जन सहभागिता योजना के तहत निर्मित भवन का लोकार्पण किया।

मंत्री ने प्रधान मंत्री जन विकास कार्यक्रम योजना के अंतर्गत कॉमन सर्विस सेंटर नागौर शहर के भवन का शिलान्यास भी किया। उन्होंने राजकीय अल्पसंख्यक बालक छात्रावास बासनी का अवलोकन भी किया। इस दौरान उन्होंने छात्रावास में रसोई का स्वाद चखकर खाने के मैन्यू से संबंधित जानकारी भी ली।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मंत्री मोहम्मद ने कहा कि राजस्थान सरकार अल्पसंख्यक समुदाय के समावेशी विकास को लेकर शिद्दत से काम कर रही है। उन्होंने कहा कि विशेषकर शिक्षा के क्षेत्र में अल्पसंख्यक समुदाय के युवाओं को बेहतर मौका देने के लिए राज्य सरकार विभिन्न प्रकार की योजना संचालित कर रही है।

जिसमें अल्पसंख्यक बालक -बालिका छात्रावास, अल्पसंख्यक बालक- बालिका आवासीय विद्यालय, मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना, भीमराव अंबेडकर डीबीटी वाउचर योजना, शैक्षिक ऋण दिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मदरसों में बेहतर आवासीय सुविधा देने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री मदरसा आधुनिकीकरण योजना के अंतर्गत भवनों का विस्तार किया जा रहा है, इससे छात्र-छात्राओं को बेहतर सुविधाएं मिल सकेंगी।

मंत्री ने उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि राजस्थान सरकार द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं का जागरूकता के साथ अधिक से अधिक लाभ उठाएं। कार्यक्रम में संस्था प्रधान हाफिज मोहम्मद सईद, डॉ. मोहम्मद सलीम, विक्रम सिंह राठौड़, कासम अली राठौड़, हाजी मोहम्मद हसन साहब आदि मौजूद रहे।

अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री शाले मोहम्मद ने बासनी में जनसुनवाई कर आमजन के अभाव अभियोग सुने एवं संबंधित अधिकारियों को त्वरित निस्तारण के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि राजस्थान सरकार आमजन की परिवेदनाओं का समय पर निस्तारण करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने अधिकारियों को कहा कि जनसुनवाई में किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी। मंत्री ने निर्माणाधीन कार्यों को बेहतर कराने एवं समय पर अवलोकन के निर्देश दिए। मंत्री की जनसुनवाई में पानी, बिजली, शिक्षा, स्वास्थ्य, पंचायतीराज विभाग से जुड़ी समस्याएं बताई गई।

मंत्री शाले मोहम्मद ने नागौर में सूफी तारकीन की दरगाह पर चादर पेश कर प्रदेश में खुशहाली और अमन चैन की दुआ मांगी और उर्स के पोस्टर का विमोचन भी किया। इस दौरान पूर्व मंत्री हबीबुर्रहमान भी साथ रहे।