• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Nagaur
  • Said Wins And Losses Keep Happening, The Love People Have Given Me Is More Than Winning Indian Idol For Me; In Many Reports, On The Question Of Telling A False Story To Poverty, I Also Want To Get A Bungalow And A Car.

सवाई भाट का एक्सक्लूसिव इंटरव्यू, VIDEO:मामा ने मोबाइल से वीडियो रिकॉर्ड कर ऑडिशन के लिए डाला, उसी ने पहुंचाया मुंबई; बोले- सिलेक्शन का पता चला तो खुशी का ठिकाना नहीं रहा

नागौर2 महीने पहलेलेखक: मनीष व्यास

चर्चित म्यूजिक रियलिटी शो 'इंडियन आइडल-12' का विनर पवनदीप राजन को 15 अगस्त रात 12 घोषित किया गया। लेकिन, इस शो ने राजस्थान के नागौर जिले के एक छोटे से गांव से निकले सवाई भाट को नई पहचान दी। शो के टॉप-8 में रहे सवाई भाट भले ही विनर नहीं बन पाए, लेकिन उन्होंने अपनी आवाज के दम पर देश के लाखों लोगों के दिल में अपनी जगह बनाई। यहां तक की ग्रैंड फिनाले एपिसोड में भी सवाई ने अपनी धमाकेदार परफॉर्मेंस से दिल जीता।

सवाई भाट ने बताई पहले ब्रेक की कहानी
सवाई भाट ने दैनिक भास्कर को इंडियन आइडल में ब्रेक की कहानी भी बताई। उन्होंने बताया कि इस बार इंडियन आइडल के ऑडिशन ऑनलाइन थे। तो उनके मामा ने ही उनका वीडियो शूट कर इंडियन आइडल की वेबसाइट पर अपलोड कर दिया। इसके बाद उनके मामा के पास फोन आया और ऑडिशन के लिए मुंबई आने की जानकारी मिली तो उनकी खुशी का ठिकाना न था।

'इंडियन आइडल-12' सीजन के टॉप 8 गायकों में शुमार हुए थे सवाई भाट।
'इंडियन आइडल-12' सीजन के टॉप 8 गायकों में शुमार हुए थे सवाई भाट।

अब 'इंडियन आइडल-12' सीजन के खत्म होने के बाद सवाई शुक्रवार को गांव गच्छीपुरा स्थित अपने घर पहुंचे। यहां दैनिक भास्कर से एक्सक्लूसिव बातचीत में सवाई भाट ने अपने संघर्ष के शुरुआती दिनों से लेकर इंडियन आइडल शो में एंट्री, मशहूर म्यूजिक जज के सामने परफॉर्मेंस, टॉप 8 में जगह बनाने और अपने डेब्यू सांग 'सांसे' से लेकर अपने फ्यूचर प्लान के बारे में खुलकर बताया। पेश हैं उसके कुछ अंश...

छोटे से गांव में गरीबी के बीच कच्चे घर से शुरू हुआ था सवाई की गायकी का सफर।
छोटे से गांव में गरीबी के बीच कच्चे घर से शुरू हुआ था सवाई की गायकी का सफर।

सवाल- एक छोटे से गांव से इंडियन आइडल का सफर कैसा रहा? जवाब- एक छोटे से गांव से निकलकर इंडियन आइडल में पहुंचा और उसके बाद महान कलाकारों के बीच गाने का मौका मिला। इसके लिए सबसे बड़ा शुक्रिया राजस्थान और पूरे देश की जनता को है। इसी जनता की बदौलत मुझे फिनाले में भी परफॉर्म करने का मौका मिला।

सिंगर सवाई भाट शो के दौरान अपने पिता के साथ।
सिंगर सवाई भाट शो के दौरान अपने पिता के साथ।

सवाल - मायानगरी मुंबई में नाम और पहचान मिली है, इस अनुभव को कैसे देखते है ?
जवाब - पहले में मेरे दादा खैराती भाट, मेरे पापा और मामा के साथ गांव के जगरातों में जाता था और ढोलक बजाता था। मैं कठपुतली दिखाने का काम भी करता था। इसके बाद धीरे-धीरे गायकी का शौक लगा। तैयारी बढ़िया हो गई तो लोग मुझे अपने शादी-ब्याह और जगरातों में गाने-बजाने के लिए बुलाने लगे। मुझे इस दौरान नागौर, डीडवाना और जैसलमेर के लोगों ने ढेर सारा प्यार दिया। मामा के मोबाइल से नुसरत फ़तेह अली खान साहब और गुलाम अली खान साहब के गाने सुनता था और रियाज करता था। अब जो है सब कुछ इसकी ही देन है।

शो में एलिमिनेशन के बावजूद भी सवाई के फैन्स की संख्या बढ़ती गई।
शो में एलिमिनेशन के बावजूद भी सवाई के फैन्स की संख्या बढ़ती गई।

सवाल - इंडियन आइडल के सुपर 8 में शामिल होने के बाद आप एलिमिनेट हुए पर आपकी फेन फॉलोइंग में कोई फर्क नहीं पड़ा है। क्या मानते हैं ?
जवाब - देखिये जीत-हार तो होती रहती है। मेरे लिए यहां से वहां पहुंचना जीत से कम नहीं है। हार का गम भी नहीं है उलटा खुशी इस बात की है कि मुझे इतने लोगों का प्यार मिल रहा है और ये मेरे लिए किसी भी जीत से बढ़कर है।

सवाई को हिमेश के एलबम 'हिमेश दिल से' के पहले गाने सांसें से डेब्यू का मौका मिला।
सवाई को हिमेश के एलबम 'हिमेश दिल से' के पहले गाने सांसें से डेब्यू का मौका मिला।

सवाल- आपके पहले डेब्यू सॉन्ग 'सांसें' के बारे में कुछ बताना चाहेंगे ?
जवाब- देखिए 'सांसें' मेरे दिल के सबसे करीब है और इसके लिए मैं हिमेश सर का भी बहुत शुक्रगुजार हूं कि उन्होंने खुद के लिखे इस प्यारे गाने में मुझे मौका दिया। इस गाने को देश ने भरपूर प्यार दिया है।

सवाल- आगे आपके और कौन से गाने आने वाले है ?
जवाब- जी अभी मैं आपको अभी कुछ नहीं बता सकता हूं।

चर्चा है कि जल्दी ही शो जज और सिंगर सोनू कक्कड़ के साथ सवाई का दूसरा गाना आने वाला है।
चर्चा है कि जल्दी ही शो जज और सिंगर सोनू कक्कड़ के साथ सवाई का दूसरा गाना आने वाला है।

सवाल - चर्चा है कि सोनू कक्क्ड़ ने आपको अपने एलबम में गाने का मौका दिया है और इस दूसरे गाने कि रिकॉर्डिंग भी पूरी हो चुकी है। क्या ये सही है ?
जवाब - गाना अभी मुझे इतना कन्फर्म नहीं और इसके बारे में कुछ पता नहीं है। गाना आएगा तो जल्दी ही आपके सामने आ जाएगा।

सवाल- आपकी फ्यूचर प्लानिंग क्या है ?
जवाब- देखिए में एक गरीब परिवार से हूं तो मैं ये चाहता हूं कि मेरे जैसे गरीब परिवार से निकलने वाले टैलेंट को आगे लाने का प्रयास करूंगा। मैं मेरे फेन्स से भी ये अपील करूंगा कि आप टैलेंट को सपोर्ट करें और उन्हें आगे लाने का प्रयास करें।

सवाई की गरीबी को लेकर भी कई सवाल उठाए जाते रहे है।
सवाई की गरीबी को लेकर भी कई सवाल उठाए जाते रहे है।

सवाल- शो के दौरान कई मीडिया रिपोर्ट में आया कि आपकी गरीबी की कहानी झूठी है। ऐसा सुनकर कैसा लगता है ?
जवाब- किसी का मुंह बंद नहीं किया जा सकता है। सब लोगों ने मुझे देखा है और आपके तो सामने है। कुछ लोग अपने फायदे के लिए ऐसा करते है। मैं तो चाहता हूं कि जिस तरह रिपोर्ट में आया, उसी तरह मुझे माता रानी के आशीर्वाद से बंगला भी मिले और गाड़ी भी। फेन्स के प्यार से ये सब सच होने का सपना देखता हूं।

शो के दौरान सवाई ने कई बड़े कलाकारों के साथ परफॉर्मेंस दी थी। उदित नारायण के साथ सवाई भाट।
शो के दौरान सवाई ने कई बड़े कलाकारों के साथ परफॉर्मेंस दी थी। उदित नारायण के साथ सवाई भाट।

इंटरव्यू के अंत में सवाई भाट ने दैनिक भास्कर के यूजर्स के लिए फेमस बॉलीवुड फिल्म 'कच्चे धागे' के 'तेरे बिन नहीं जीना' सॉन्ग की कुछ लाइनें भी गुनगुनाई, जिसे आप वीडियो में सुन सकते हैं।

खबरें और भी हैं...