लॉकडाउन में तस्करी / 22 दिन पहले जिस पिकअप में नाथद्वारा से मिराज भरकर आया उसी से फिर तस्करी शुरू

X

  • पुलिस से नहीं थम पा रही है तस्करी, वाहन काे छुड़ाने में भी कामयाब हाे जाते है तस्कर

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

नागौर. शहर के एक बड़े गुटखा व्यापारी की तीन जगहों से धूम्रपान सामग्री जब्त होने के बाद वारदात में दूसरे दिन शुक्रवार को चौकाने वाले तथ्य सामने आए हैं। पुलिस ने गुरुवार को धूम्रपान सामग्री की सप्लाई के दौरान जिस वाहन को जब्त किया था असल में यह वही वाहन था, जिसको कोतवाली थाना पुलिस 30 अप्रैल को जब्त कर चुकी थी। पुलिस उप अधीक्षक मुकुल शर्मा ने बताया कि 22 दिन पहले जिस नंबर के वाहन को पुलिस ने कमल अग्रवाल रंगवाला की अठियासन स्थित फैक्ट्री से जब्त किया था। इस वाहन का चालक शारदापुरम निवासी मोढ़ाराम राजसमंद के नाथद्वारा से मिराज भरकर लाया था और वह मजदूरों की सहायता से उक्त माल का फैक्ट्री में खाली करवा रहा था। ठीक उसी समय पुलिस ने वाहन को जब्त करते हुए थाने में रखवा दिया और तीन जनों को गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद आरोपी कमल रंगवाला ने वाहन को छुड़वा लिया और फिर दोबारा इसी वाहन से धूम्रपान सामग्री की सप्लाई एवं तस्करी करने लग गया। हालांकि इस बार रंगवाला ने वाहन का चालक बदल दिया। गुरुवार को सूचना पर जब वाहन को जब्त किया और उसके नंबरों का मिलान किया गया तो हकीकत सामने आई। 
लंबे समय से सक्रिय
पुलिस के अनुसार आरोपी कमल रंगवाला लंबे समय से अवैध रूप से तम्बाकू पदार्थ की सप्लाई के साथ बिक्री के खेल में लगा हुआ था। इस पर पुलिस लंबे समय से घात लगाए बैठी हुई थी। पुलिस ने 30 अप्रैल को कार्रवाई के बाद आरोपी पर निगरानी रखना बंद नहीं किया। आरोपी दोबारा बड़े स्तर पर अवैध रूप से तंबाकू की बिक्री के खेल में लग गया। जब पुलिस को भनक लगी तो उसकी बड़ी खेप आई है तो सूचना पर माल को जब्त कर लिया गया। पुलिस के अनुसार अवैध रूप से धूम्रपान सामग्री की सप्लाई एवं भण्डारण के मामले में कमल रंगवाला की तलाश जारी है। पुलिस जल्द आरोपी से पूछताछ कर कार्रवाई करेगी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना