प्राचार्य के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन:राजकीय कॉलेज में प्राचार्य के खिलाफ छात्रों ने लगाया ड्यूटी पर नहीं आने का आरोप, आंदोलन की दी चेतावनी

नागौर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

डेगाना की राजकीय महाविद्यालय में पिछले कुछ दिनों से नियमित रुप से आने वाले छात्रों की कक्षाएं नहीं लगाए जाने के खिलाफ छात्र नेता वंश शर्मा के नेतृत्व में प्राचार्य एस.बी.एल. त्रिपाठी के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया गया।

इस दौरान छात्र नेता वंश शर्मा के नेतृत्व में महाविद्यालय में नियमित कक्षाएं नहीं लगाए जाने से छात्रों की पढ़ाई बाधित हो रही है जिसको लेकर महाविद्यालय के प्राचार्य एसबीएल त्रिपाठी कभी भी कॉलेज समय में नहीं आते है।

डेगाना महाविद्यालय में नियमित कक्षाओं में कुल 900 से अधिक छात्र-छात्राओं ने एडमिशन ले रखा है लेकिन पिछले दो महीनों में एक भी दिन नियमित कक्षाएं नहीं लगाई गई। साथ ही नियमित रूप से कक्षाएं लगाई जाने वाले कक्षा-कक्षों के ताले लगाए रहते है। इस बारे में छात्र नेता सहित छात्रों ने शिकायत दर्ज करवानी चाही तो प्राचार्य एसबीएल त्रिपाठी कभी भी समय पर कॉलेज के कार्यालय में उपस्थित भी नहीं रहते है। आते भी है तो सप्ताह में मात्र एक या दो दिन के लिए आकर चले जाते है।
कॉलेज का स्टाफ नहीं देता है छात्रों को पूर्व में कोई सूचनाएं
डेगाना कॉलेज का स्टाफ छात्रों को किसी प्रकार की कोई सूचना पूर्व में नहीं देते है इस वजह से अनेक छात्र बिना सूचना की वजह से कॉलेज की मासिक गतिविधियों से दूर रहे जाते है। इसके बारे में कॉलेज के प्राचार्य को बार-बार अवगत करवाने के बाद भी सुनवाई नहीं हो रही है।
मंगलवार देर शाम कॉलेज के छात्रों को सूचना देने के लिए आनन-फानन में आदेश निकाला गया कि 4 दिसम्बर तक प्रायोगिक फाइल जमा करवाने की अंतिम तिथि है।

नियमित कक्षाओं का बड़े अधिकारी निरीक्षण करने आते है उस समय कॉलेज के स्टाफ नियमित कक्षाएं जरूर लगाते है।निरीक्षण के कुछ समय के बाद ही छात्रों को छुट्टी देकर नियमित कक्षाओं को समाप्त कर देते है।जिससे छात्रों की पढ़ाई खराब हो जाती है।फिर भी कॉलेज के प्रशासन कोई ध्यान देने को तैयार नहीं।
डेगाना राजकीय महाविद्यालय के प्राचार्य एसबीएल त्रिपाठी से रूबरू हुए तो प्राचार्य छात्रों के खिलाफ ही आरोप लगाते हुए नजर आए। उन्होंने कहा कि छात्र नेता वंश के द्वारा कॉलेज में लगी कॉलेज व्याख्याता के बोर्ड पर कुछ लिखा दिया गया था।
आरोप : कॉलेज परिसर में है अनेक असुविधाएं
डेगाना कॉलेज परिसर में विभिन्न प्रकार की असुविधाएं होने की वजह से छात्रों को अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। लेकिन कॉलेज के एक भी स्टाफ छात्रों की समस्याओं की ओर ध्यान नहीं देते है। इस मामले को लेकर छात्रों ने मीडिया को बुलाकर मौका दिखाया तो मौके पर प्राचार्य सहित अन्य स्टाफ शादी समारोह में गए होने की जानकारी मिली। छात्रों का आरोप है कि प्राचार्य सहित अन्य स्टाफ महीने में 20 से ज्यादा दिन अपने निजी कार्यों में व्यस्त रहते है।

खबरें और भी हैं...