पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मुख्यमंत्री को ज्ञापन:शिक्षकों ने दिया ज्ञापन, बीएलओ को आधार सीडिंग से मुक्त करने की मांग, एडीएम को सीएम के नाम सौंपा

नागौर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रांतीय आह्वान पर राजस्थान शिक्षक संघ शेखावत जिला शाखा नागौर द्वारा बुधवार को नागौर जिले में सभी उपशाखाओं द्वारा उपखंड स्तर पर निम्न मांगो का अतिशीघ्र निस्तारण करवाने के लिए सीएम व शिक्षा मंत्री के नाम ज्ञापन सौंपे। जिलाध्यक्ष अर्जुन राम लोमरोड़ ने बताया कि नागौर उपशाखा पदाधिकारियों द्वारा एडीएम के मार्फ़त ज्ञापन सौंपा। उन्होंने बताया कि 5 जून 2020 को मुख्य सचिव ने आदेश जारी कर स्पष्ट किया था, कि शिक्षकों को किसी प्रकार के गैर शैक्षणिक कार्यों में नहीं लगाया जाएगा।

इसके बावजूद विभिन्न जिलों में बीएलओ को वन नेशन वन राशनकार्ड की आधार नम्बर से सीडिंग के लिए लगाया गया है। 80% बीएलओ शिक्षक हैं। संगठन की मांग है कि शिक्षकों को खाद्य सुरक्षा अन्तर्गत राशनकार्ड के आधार नम्बर के सीड के लिए लगाई गई ड्यूटी से मुक्त किया जाए। यदि इस कार्यक्रम से शिक्षकों को मुक्त नहीं किया गया तो संगठन एक साथ पूरे राज्य में इस कार्यक्रम का बहिष्कार करेगा, जिसकी समस्त जिम्मेदारी सरकार की होगी। वर्तमान में शिक्षा विभाग में समस्त पदों पर स्थानान्तरण प्रक्रिया चल रही है, लेकिन तृतीय श्रेणी शिक्षकों के स्थानान्तरण पर रोक लगाई गई है।

जिससे शिक्षकों में सरकार के प्रति रोष व्याप्त हैं। उन्होंने तृतीय श्रेणी शिक्षकों की भी स्थानान्तरण प्रक्रिया शीघ्र शुरू करने की मांग की है। मार्च माह में शिक्षकों के स्थगित किए 16 दिन के वेतन को दीपावली के बोनस के साथ ही मार्च माह के 16 दिन के वेतन का भुगतान करने की मांग की है। इस दौरान शिक्षक संघ शेखावत के जिलाध्यक्ष लोमरोड़, उपशाखा मंत्री हरजीत काला, कोषाध्यक्ष मांगीलाल देवड़ा, प्रचार मंत्री सुशील वैष्णव मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...