पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोविड का बढ़ता ग्राफ:कोरोना से लड़ने के लिए प्रशासन ने कमर कसी, नागौर जिले में धारा 144 लगाई

नागौर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नागौर। जिले में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए धारा 144 लगा दी गई है।
  • शादी में 100 और अंत्येष्टि में 20 लोगों ही शामिल हो सकेंगे
  • जिला कलेक्टर की अपील- लोग कोरोना संक्रमण रोकने में धारा 144 की पालना करें
  • अब एक साथ 4 से अधिक लोगों के एकत्र होने पर रहेगा प्रतिबंध

जिले में सैकड़ों कोरोना मरीज रोज आने के कारण कोविड के खिलाफ कड़ी लड़ाई लड़ने के लिए जिला प्रशासन ने तैयारी कर ली है। कलेक्टर जितेंद्र कुमार सोनी ने शनिवार से 20 जनवरी तक जिले में धारा 144 लगाने के आदेश जारी किए। उन्होंने कोरोना के तेजी से फैल रहे संक्रमण को देखते हुए लोगों से बड़ी संख्या में एक जगह एकत्र नहीं होने और इसमें सहयोगी बनने की अपील की है।

सोनी का कहना है कि राज्य सरकार ने यह फैसला जनहित में किया है। इसकी पालन करने में लोगों की भूमिका अहम है। धारा-144 लागू होने के बाद एक जगह पर 4 लोगों से ज्यादा के एकत्र होने पर प्रतिबंध लग जाएगा।

धारा-144 में इन बातों पर लग जाता है प्रतिबंध
सार्वजनिक स्थानों पर चार से अधिक लोगों के एकत्र होने पर रोक रहेगी। विवाह संबंधी आयोजनों के लिए अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट/ उपखंड मजिस्ट्रेट को पूर्व में सूचना देगी होगी। मेहमानों की संख्या 100 से अधिक नहीं होगी।

थर्मल स्कैनिंग, हैंडवॉश, सैनेटाइजर सहित मेडिकल प्रोटोकॉल की पालना करनी होगी। सभी सामाजिक, खेल, राजनीतिक, मनोरंज, धार्मिक-सांस्कृतिक सामूहिक गतिविधियों, रैली-जुलूस व सामूहिक कार्यक्रमों पर रोक रहेगी। अंत्येष्टि में 20 से अधिक लोगों के शामिल होने पर रोक रहेगी।

पंचायत चुनाव के बाद से बढ़ने लगे मरीज
जिले में पंचायत चुनाव के बाद से ही कोरोना के मरीज बढ़ने लगे। वहीं अब नागौर नगर परिषद सहित पालिका लाडनूं, मंडवा, कुचेरा, मेड़ता सिटी, डेगाना, परबतसतर, कुचामनसिटी और नावां में चुनाव होने हैं। इसे देखते हुए प्रशासन चिंतित है। इसलिए सरकार ने धारा 144 लगाने का फैसला किया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थिति तथा समय में तालमेल बिठाकर कार्य करने में सक्षम रहेंगे। माता-पिता तथा बुजुर्गों के प्रति मन में सेवा भाव बना रहेगा। विद्यार्थी तथा युवा अपने अध्ययन तथा कैरियर के प्रति पूरी तरह फोकस ...

और पढ़ें