पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शैक्षिक अनुसंधान परीक्षा का परिणाम घोषित:सामान्य वर्ग की 132, अन्य पिछड़ा 110, अजा 98 व अजजा की 89 अंक रही कटऑफ

नागौर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो।

राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद की ओर से आयोजित की गई राष्ट्रीय प्रतिभा खोज के द्वितीय स्तर की परीक्षा का परिणाम जारी कर दिया गया है। इसके लिए एनसीईआरटी ने बाकायदा अधिकारिक तौर पर पत्र भी जारी किया है। उल्लेखनीय है कि परिषद की ओर से 14 फरवरी 2021 को देशभर में इस परीक्षा का आयोजन किया गया था।

अंतिम परिणाम की घोषणा के साथ ही एनसीईआरटी ने बिना प्रमाण-पत्र के आरक्षित श्रेणी में आवेदन करने वाले विद्यार्थियों को आवश्यक दस्तावेज जमा करवाने के लिए 21 दिन का समय दिया है। इसके तहत जिन विद्यार्थियों दस्तावेज जमा नहीं करवाए हैं उन्हें स्पीड पोस्ट से एनसीईआरटी दिल्ली को प्रमाण-पत्र भिजवाने होंगे।

बता दें कि इस योजना के तहत छात्र-छात्राओं में प्रतिभा की पहचान और उत्साहवर्धन के लिए एनटीएसई-परीक्षा का आयोजन दो चरणों में किया जाता है। इस साल द्वितीय स्तर की परीक्षा के लिए कुल 7586 परीक्षार्थियों ने हिस्सा लिया था। गौरतलब है कि यह परीक्षा देशभर के 40 अलग-अलग शहरों में स्थापित 58 परीक्षा केंद्रों पर आयोजित की गई थी। इसमें बौद्धिक योग्यता परीक्षण व शैक्षिक योग्यता परीक्षण पर आधारित 100-100 प्रश्न पूछे गए थे।

अधिकारियों के मुताबिक एनसीईआरटी की ओर से राष्ट्रीय प्रतिभा खोज-द्वितीय स्तर परीक्षा का अंतिम परिणाम जारी कर दिया गया है। विद्यार्थी एनसीईआरटी की वेबसाइट https://ncert.nic.in पर श्रेणीवार डिटेल कट ऑफ तथा प्रदत्त लिंक पर अपना रिजल्ट जांच कर सकते हैं। परिणाम जारी होने के बाद से ही प्रतिभाओं के बीच जानने को लेकर हौड़ मच गई। दिनभर ओनलाइन परिणाम देखते रहे।

11-12वीं में पढ़ाई के दौरान मिलते है 1250 रु. प्रतिमाह

इस परीक्षा में अंतिम रूप से चयनित विद्यार्थियों को 11वीं और 12वीं कक्षा में पढ़ाई के दौरान 1250 रुपए प्रतिमाह, पोस्ट ग्रेजुएशन और स्नातक स्तर पर पढ़ाई के दौरान 2000 रुपए प्रतिमाह तथा पीएचडी के दौरान विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के मानकों के अनुसार निर्धारित राशि छात्रवृत्ति के रूप में प्रदान की जाएगी। इसके साथ-साथ चयनितों को 7 वर्षों में करीब 1.50 लाख रुपयों के साथ-साथ विश्वविद्यालय स्तर पर प्रवेश के लिए कट ऑफ में भी इसका लाभ मिलता है।

खबरें और भी हैं...