• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Nagaur
  • The Dispute Between The CM pilot Faction Did Not Stop; Supporters Of Both Got Entangled On The Way Before The Welcome Program Of Minister Hemaram In Idwa

हाईवे पर गुटबाजी:नहीं थमा सीएम-पायलट गुट में विवाद; ईड़वा में मंत्री हेमाराम के स्वागत कार्यक्रम से पहले रास्ते में ही उलझे दोनों के समर्थक

नागौर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

डेगाना कांग्रेस की गुटबाजी हाईवे पर आ गई है। पालिका चुनावों की रंजिश और पायलट-गहलोत में बंटे कांग्रेसी गुरुवार को हाईवे पर आमने-सामने हो गए। यह गुटबाजी तब दिखी जब ईड़वा में एक स्वागत समारोह में आए केबिनेट मंत्री हेमाराम चौधरी को वहां जाने ही नहीं दिया। हाईवे पर ही उनका दो बार सम्मान कर दिया। ईड़वा में कांग्रेसी उनका इंतजार ही करते रह गए। हुआ यूं कि हेमाराम ईड़वा में पूर्व सांसद के घर स्वागत समारोह में जाने वाले थे। यह कार्यक्रम पूर्व शहर अध्यक्ष सीताराम बैंदा ने आयोजित करा रखा था। बैंदा पायलट गुट के हैं।

विधायक और सीएम समर्थक विजयपाल मिर्धा ने मंत्री को हाईवे पर रोका। वहीं उनका स्वागत कर दिया और काफिले को डायवर्ट कर दिया। इसका पता जब बैंदा गुट को चला तो वे सभी हाइवे पर पहुंच गए और वहां वे परबतसर विधायक गावड़िया व लाडनूं विधायक मुकेश भाकर के साथ आए मंत्री का स्वागत करने आए। वहां दोनों गुटों मेंं बहस भी हुई जिसके वीडियो भी वायरल हुए हैं।

डेगाना कांग्रेस की गुटबाजी बाहर आई, पूर्व सांसद के घर के बाहर होना था स्वागत, गए ही नहीं
ईड़वा कार्यक्रम में इंतजार ही करते रहे कार्यकर्ता

डेगाना शहर के पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सीताराम बिंदा के नेतृत्व में ईड़वा गांव में पूर्व सांसद और पूर्व पीसीसी उपाध्यक्ष गोपाल सिंह शेखावत के घर के बाहर कैबिनेट मंत्री हेमाराम चौधरी के स्वागत का कार्यक्रम रखा गया था। लेकिन मंत्री हेमाराम चौधरी ईड़वा में कार्यक्रम में नहीं पहुंचे। सैकड़ों कार्यकर्ता वहां उनका इन्तजार करते ही रह गए।

मंत्री बोले -महज मंत्री बनाने से संघर्ष पूरा नहीं हुआ है
वन एवं पर्यावरण मंत्री हेमाराम चौधरी ने कहा कि महज उन्हें मंत्री बना देने से कार्यकर्ताओं के सम्मान के लिए उनका संघर्ष पूरा नहीं हुआ है। अभी सरकार और संगठन में भी कई नियुक्तियां होनी हैं, जिनमें कांग्रेस के लिए खून-पसीना एक करने वाले कार्यकर्ताओं को जगह मिलेगी। कार्यकर्ताओं के सम्मान से सरकार रिपीट होगी।

राणास के अलावा कोई भी कार्यक्रम नहीं था : मिर्धा
विधायक विजयपाल मिर्धा का कहना है कि केबिनेट मंत्री का राणास के अलावा अन्य जगह पर कोई कार्यक्रम नियोजित नहीं था। साथ ही मेरे को वहां ले जाने की कोई सूचना नहीं थी तो वहां जाने के लिए मना कर दिया गया।

इधर, आरोप विधायक और उनके समर्थकों पर
पूर्व ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष सीताराम बैंदा ने आरोप लगाया कि कैबिनेट मंत्री हेमाराम चौधरी कार्यक्रम में आना चाहते थे लेकिन डेगाना विधायक ने उन्हें नहीं आने दिया। वे अपने कार्यकर्ताओं के साथ हाइवे पर चले गए और मंत्री के काफिले को रुकवा लिया। गुस्साए डेगाना विधायक और उनके समर्थकों की बीच हाइवे पर सीताराम बैंदा और कार्यकर्ताओं से बहसबाजी हुई। मौके पर पुलिसकर्मियों ने विधायक मिर्धा और उनके समर्थकों को शांत किया और गाड़ी में बैठाया।

खबरें और भी हैं...