आटा-साटा की नई कहानी:लव मैरिज कर बोली लड़की- हम भेड़-बकरियां नहीं जो बदले में बिकें

नागाैर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आरोप : पुलिस कर्मी उसे और पति को परेशान कर रहे हैं

हेमपुरा में 13 दिन पहले आटा-साटा का मामला शांत ही नहीं हुआ कि जिले से ऐसा ही एक और मामला सामने आया है। इस प्रथा के सच को लेकर पहली बार एक लड़की खुलकर सामने आई। वीडियो जारी कर लड़की ने कहा है कि हम लड़कियां कोई भेड़-बकरियां नहीं हैं, जो जब चाहे किसी को भी किसी के बदले बेच दोगे।

उसने बताया कि घरवाले, गांव के कुछ लोग, राजनेता और सरकारी कर्मचारी उसके भाइयों के बदले में आटा-साटा कर उसकी शादी करवाना चाहते थे। यह भी बताया कि उसे व उसके पति को मारने के लिए सुपारी भी दी गई है। इसके बाद सोमवार को दोनों एसपी के सामने पेश हुए और सुरक्षा की मांग की।

दरअसल, जिले के चितावा थाने के शिव गांव की सरिता कुमारी ने एक वीडियो जारी किया। उसने इस वीडियो में बताया कि परिवार वाले उसके भाइयों के बदले में आटा-साटा कर उसकी शादी करना चाहते थे, लेकिन ये उसे पसंद नहीं था। इसके चलते उसने आर्य समाज के मंदिर में जाकर अपने प्रेमी रतन जाखड़ से शादी कर ली। वीडियो में बताया कि अब राजनीतिक रसूख से उसके घरवाले और कुछ पुलिसकर्मी उसे और उसके पति को परेशान कर रहे हैं।

दो वीडियो जारी किए, एक में बोली हमें बेचें नहीं, दूसरे में राजनेताओं व सरकारी कर्मचारियों पर आरोप
पहला वीडियो:
युवती ने वीडियो में बताया कि स्थानीय राजनेता भी आटा-साटा कुप्रथा को बढ़ावा देने में लगे हुए हैं। उसने गुहार लगाते हुए कहा कि हम लड़कियां कोई भेड़-बकरियां नहीं हैं जो जब चाहे किसी को भी किसी के बदले बेच दी जाएं। हमारी भी कोई जिंदगी है।

पहले नावां की बेटी को इसके चलते अपनी जान देनी पड़ी और अब शायद मुझे भी। इसके बाद ही शायद मेरे घरवाले और इन राजनेताओं को कोई अक्ल आएगी। आप सभी से गुहार है कि हम बेटियों का साथ दे और हमें आटा-साटा कुप्रथा से बचाए। गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले ही आटा-साटा प्रथा को लेकर एक युवती ने आत्महत्या कर ली थी। जिसका पति बाहर रहता था। इस बाद सरकार ने भी इस मामले को संज्ञान में लिया है। ऐसे मामलो के कारण कई लड़कियां आत्महत्या कर चुकी है।

जनप्रतिनिधि दे रहे कुप्रथा काे बढ़ावा
दूसरे में उसने आराेप लगाया कि शिव ग्राम पंचायत के सरपंच, सरकारी अध्यापक इस आटा-साटा प्रथा को बढ़ावा दे रहे हैं और उस पर दबाव बना रहे हैं। युवती ने किसी बजरंग नाम के व्यक्ति को अपनी और अपने पति कि हत्या की सुपारी दिए जाने के आरोप भी लगाए हैं। इस मामले में पुलिस से सुरक्षा की गुहार की गई।

पति के साथ एसपी के सामने हुई पेश, बोली हमें सुरक्षा दें
सरिता सोमवार सुबह अपने पति रतन जाखड़ निवासी चावण्डिया के साथ एसपी कार्यालय पहुंची और एसपी अभिजीत सिंह के समक्ष अपने परिजनों से पति सहित खुद की सुरक्षा की गुहार लगाई। सरिता ने बताया कि उसके पिता, चाचा और उसके ताऊ सहित अन्य परिजन मिलकर उसका आटा-साटा में ब्याह करना चाहते थे, लेकिन वो चावण्डिया निवासी रतन जाखड़ से प्यार करती थी, इसलिए वो 5 जुलाई को चुपचाप अपने घर से निकल गई और अगले दिन 6 जुलाई को रतन जाखड़ से विवाह कर लिया है, लेकिन इस शादी के उसके परिजन खिलाफ हैं। उन्होंने पुलिस थाना चितावा में उसके अपहरण की झूठी रिपोर्ट दर्ज करा दी है। सरिता ने एसपी से अपने पति रतनाराम सहित खुद के सुरक्षा की गुहार भी लगाई है।

खबरें और भी हैं...