रेप और हत्या में मामा दोषी करार:7 साल की बच्ची से की थी दरिंदगी, 30 दिन में सुनवाई पूरी; पॉक्सो कोर्ट कल सुनाएगी सजा

नागौर7 महीने पहले
पुलिस ने 6 दिन में पेश कर दी थी आरोपी के खिलाफ चार्जशीट ।

नागौर पॉक्सो विशेष कोर्ट ने 7 साल की मासूम बच्ची की रेप के बाद हत्या के मामले में आरोपी मामा को दोषी पाया है। सजा शुक्रवार को सुनाई जाएगी। दिनेश पुत्र रामचंद्र जाट (25) बच्ची के अपहरण, दुष्कर्म और हत्या का आरोपी था। गुरुवार दोपहर चार बजे विशिष्ट लोक अभियोजक एडवोकेट सुमेर सिंह बेड़ा और न्याय मित्र एडवोकेट जगदीश सिंह खातोलाई ने बताया कि आरोप सही पाए गए है। अदालत शुक्रवार को सजा सुनाएगी।

कुत्तों का डर दिखाकर खेत में ले गया था मुंहबोला मामा
नागौर के पादूकलां थाना क्षेत्र के एक गांव में 20 सितंबर को मुंहबोले मामा दिनेश पुत्र रामचंद्र ने नशे में होने का नाटक किया। उसने कुत्तों से डर की बात कही और 7 साल की बच्ची को घर तक छुड़वाने के लिए साथ ले गया। पास के खेत में खड़ी बाजरे की फसल में ले जाकर मासूम को बिस्किट और कुरकुरे खिलाए। यहां मासूम के साथ रेप किया। इसके बाद अपनी पोल खुलने के डर से उसकी हत्या कर दी और शव खेत को कंटीली झाड़ियों में फेंककर भाग गया।

6 दिन में पेश कर दी थी चार्जशीट
पादूकलां थाना पुलिस ने घटना के तुरंत बाद ही आरोपी दिनेश को गिरफ्तार कर लिया था। पकड़ में आते ही आरोपी दिनेश ने पूछताछ में अपना जुर्म कबूल लिया। पुलिस ने 21 सितंबर को अपहरण, पॉक्सो, मर्डर और रेप की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की थी। इसके बाद प्रकरण से जुड़े सभी गवाहों के बयान और दस्तावेज तैयार किए गए। 27 सितंबर को पुलिस ने सभी आरोपों में जुर्म प्रमाणित मान मेड़ता स्थित पॉक्सो कोर्ट में आरोपी दिनेश के खिलाफ चार्जशीट पेश कर दी थी।

खबरें और भी हैं...