कार्यशाला का आयोजन:एचआईवी एड्स पर कार्यशाला का हुआ आयोजन, बचाव के बारे में दी गई जानकारी

नागौर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान स्टेट एड्स कंट्रोल सोसाइटी जयपुर की ओर से राजस्थान व नेहरू युवा केंद्र नागौर के सहयोग से एचआईवी एड्स विषयक आउट ऑफ स्कूल यूथ के लिए पियर लीडर मॉड्यूल पर एक दिवसीय क्षमतावर्धन कार्यशाला का आयोजन आज नागौर में हुआ। जिला युवा अधिकारी सुरमयी शर्मा ने बताया कि एचआईवी एड्स जागरूकता के लिए राजस्थान स्टेट एड्स कंट्रोल सोसाइटी की ओर से नेहरू युवा केंद्र के माध्यम से राजस्थान के हर जिले में इन कार्यशालाओं का आयोजन किया जा रहा है, जिसका उद्देश्य युवाओं में जागरूकता के साथ उनका पियर लीडर के रूप में निर्माण कर सभी में एचआईवी व एड्स के प्रति जो भ्रांतियां फैली हैं, उनको मिटाना साथ ही इस बीमारी से पीड़ित लोगों के प्रति संवेदनशील व्यवहार अपनाना है। साथी फाउण्डेशन के विजय ने वायरस के जेनेटिक मटेरियल आरएनए, एन्टीजन व एन्टीबॉडी, फैलने के कारण के साथ ही इसकी टेस्टिंग के प्रकार व दुष्प्रभाव के बारे में बताया। नर्सिंग ट्यूटर बालमुकुंद व एचआईवी कोऑर्डिनेटर जिला एड्स कन्ट्रोल सोसाइटी से सुनिल ने बताया कि एचआईवी एक लाइलाज बीमारी है, जिसका बचाव ही उपचार है। जिसके बारे में हमें सब को जागरूक करना है। कार्यक्रम में पधारे नर्सिंग ट्यूटर भंवरलाल ने भी जानकारी दी। कार्यक्रम के लेखा व कार्यक्रम सहायक प्रियंका कच्छवाह ने सभी काे धन्यवाद ज्ञापन किया। कार्यक्रम में राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक हर्षुल पटेल, भूमिक गौड़, श्यामसुंदर, सुशील, ओमप्रकाश आदि थे। इस अवसर पर अनेक लोग कार्यक्रम के दौरान मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...