रक्तदान शिविर का आयोजन:डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयन्ती पर युवाओं ने जेएलएन में किया रक्तदान

नागौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राष्ट्रीय चरित्र की परीक्षा राष्ट्र के संकट काल में ही होती है, इस राष्ट्रवाद की विचारधारा के धनी डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की 121वीं जयंती के पावन अवसर और आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर नेहरू युवा केंद्र की ओर से जेएलएन में रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया,

जिसमें अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी सुरेश सोनी ने सर्वप्रथम शिविर की शुरुआत की। उसके बाद श्याम सुंदर, ईशान, कपिल, नगा राम समेत कई युवाओं ने रक्तदान कर राष्ट्र के प्रति अपने समर्पण की भावना जागृत की और लोगों को यह संदेश दिया कि राष्ट्र प्रेम से बढ़कर और कुछ नहीं है।

नेहरू युवा केन्द्र के जिला युवा अधिकारी सुरमयी ने युवाओं को इस अवसर पर बताया कि डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी को हमेशा महान संगठक, कुशल नेतृत्वकर्ता और बहादुर राजनैतिक नेतृत्व प्रदाता के उदाहरण के रूप में माना जाता रहा है। मनीष शर्मा ने बताया कि रक्तदान महा दान होता है।

इससे जुड़ी भ्रांतियों को छोड़ सभी को रक्तदान करना चाहिए। कहा कि नेहरू युवा केन्द्र नागौर के ग्रामीण युवा मंडलों द्वारा युवाओं को इस मौके पोधारोपण, फलोगिग रन के साथ साथ डॉ. मुखर्जी के जीवन के बारे में बताया।

खबरें और भी हैं...