राजस्थान में एक्टिव केस 60 हजार पार:जयपुर, अलवर, जोधपुर और उदयपुर से ही आ रहे 50% से ज्यादा संक्रमित

जयपुर5 महीने पहले

राजस्थान में कोरोना के एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 63 हजार 732 हो गई है। रविवार को 10 हजार 6 नए कोविड संक्रमित मिले हैं, जबकि 6 मरीजों की मौत हो गई। जयपुर में 2, जालोर में 1, झालावाड़ में 1, राजसमंद में 1 और उदयपुर में 1 मौत रिकॉर्ड हुई है। प्रदेश में जयपुर में सबसे ज्यादा 1871 पॉजिटिव केस मिले हैं। इसके अलावा अलवर में 1026, जोधपुर में 909, उदयपुर में 734 संक्रमित मिले हैं।

10 हजार 6 कोरोना संक्रमित मिले
जिलेवार अजमेर में 292, अलवर में 1026, बांसवाड़ा में 113, बारां में 94, बाड़मेर में 458, भरतपुर में 542, भीलवाड़ा में 285, बीकानेर में 434, बूंदी में 44, चित्तौड़गढ़ में 293, चूरू में 178, दौसा में 95, धौलपुर में 120, डूंगरपुर में 197, गंगानगर में 292, हनुमानगढ़ में 327, जयपुर में 1871, जैसलमेर में 150, जालोर में 4, झालवाड़ में 77, झुंझुनूं में 28, जोधपुर में 909, करौली में 9, कोटा में 291 संक्रमित मिले हैं। नागौर में 83, पाली में 263, प्रतापगढ़ में 163, राजसमंद में 180, सवाईमाधोपुर में 148, सीकर में 113, सिरोही में 132, टोंक में 51, उदयपुर में 734 केस मिले हैं।

जयपुर में 2 की मौत
राजधानी जयपुर के झोटवाड़ा में 124, वैशाली नगर में 80, आमेर में 38, अग्रवाल फार्म में 38, अजमेर रोड पर 42, बनीपार्क में 49, सी-स्कीम में 34, दुर्गापुरा में 40, गोपालपुरा में 41, जवाहर नगर में 59, सोड़ाला में 64, टोंक रोड पर 43, जेएलएन मार्ग पर 35, किरण पथ पर 41, कोटपूतली में 71, लालकोठी में 23, मालवीय नगर में 36, मानसरोवर में 62, मुरलीपुरा में 38, न्यू सांगानेर रोड पर 42, पत्रकार कॉलोनी में 39, प्रताप नगर में 25, शास्त्री नगर में 47, त्रिवेणी नगर में 32, विद्याधर नगर में 36, जिनके पते नहीं मालूम ऐसे 25 संक्रमित मिले हैं।

राजस्थान में तीसरी लहर के दौरान अब तक 41 कोविड संक्रमितों की मौतें हो चुकी हैं। 4 जनवरी को 1 मौत से यह सिलसिला शुरू हुआ। यह बढ़ते-बढ़ते 15 जनवरी को 8 मौत तक जा पहुंचा है। रविवार को 6 मरीजों की मौत हो गई। जैसे-जैसे कोविड के केस बढ़ रहे हैं, वैसे-वैसे संक्रमण से होने वाले कॉम्प्लिकेशन और मौतों के आंकड़े भी बढ़ रहे हैं।

कोविड की तीसरी लहर में मौत का आंकड़ा

तारीखमौत
4 जनवरी1
5 जनवरी2
6 जनवरी0
7 जनवरी2
8 जनवरी2
9 जनवरी1
10 जनवरी2
11 जनवरी4
12 जनवरी3
13 जनवरी7
14 जनवरी3
15 जनवरी8
16 जनवरी6
कुल41

हॉट स्पॉट बना जयपुर
जयपुर प्रदेश का सबसे बड़ा कोविड हॉट स्पॉट है। राजधानी होने और सबसे ज्यादा और घनी आबादी होने के कारण जयपुर में तेजी से कोविड संक्रमण फैल रहा है। बाहरी राज्यों से भी लोग जयपुर में ही सबसे ज्यादा ट्रैवल करते हैं। यह भी बड़ा कारण है कि जयपुर में कम्युनिटी स्प्रेड जैसे हालात दूसरी लहर के बाद तीसरी में भी बनने लगे हैं। जयपुर में 1 जनवरी को 192 संक्रमित मिले थे। 15 जनवरी को 1973 पॉजिटिव मरीज मिले।

कोरोना की थर्ड वेव से फिर लौटी दहशत:100 साल में ऐसी महामारी, 1 साल तक कैद रहे लोग; पढ़िए- पहली से तीसरी लहर का पोस्टमॉर्टम