राजस्थान सचिवालय में कोरोना विस्फोट:2 IAS समेत 30 अफसर-कर्मचारी पॉजिटिव, एक में ओमिक्रॉन के लक्षण

जयपुर7 महीने पहले
सचिवालय में बड़ी संख्या में कोरोना के केस आने के बाद कई अधिकारी और कर्मचारी छुट्टी पर चले गए हैं। हड़कंप की स्थिति बन गई है।

राजस्थान सचिवालय में कोरोना विस्फोट हो गया है। यहां 2 IAS समेत 30 अधिकारी-कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। संक्रमित होने वाले IAS अधिकारियों में पीसी किशन और दिनेश कुमार शामिल हैं। DIPR डायरेक्टर पुरुषोत्तम शर्मा, एक डिप्टी डायरेक्टर, ऑपरेटर भी पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं, कार्मिक विभाग के जॉइंट सेक्रेटरी जयनारायण मीणा में ओमिक्रॉन के लक्षण मिले हैं। निर्वाचन विभाग में RAS सुरेश कुमार भी कोविड संक्रमित हो गए हैं।

इसके साथ शिक्षा मंत्री डॉ. बीडी कल्ला के स्टाफ में भी कर्मचारी कोरोना संक्रमित मिले हैं। दरअसल, कर्मचारियों की कोविड जांच लगातार पिछले 4 दिनों से जारी है। सचिवालय में कोरोना फैलने से कर्मचारियों में हड़कंप मचा हुआ है। हाल ही में परिवहन आयुक्त IAS महेन्द्र सोनी भी कोविड पॉजिटिव पाए गए थे। हालांकि उनकी तबीयत में अब सुधार बताया जा रहा है।

संक्रमितों के संपर्क में आए लोगों की ट्रेसिंग और टेस्टिंग की जा रही है।
संक्रमितों के संपर्क में आए लोगों की ट्रेसिंग और टेस्टिंग की जा रही है।

4 दिन में 70 से ज्यादा कर्मचारियों के लिए सैंपल
सचिवालय की डिस्पेंसरी में पिछले 4 दिन में 70 से ज्यादा कर्मचारियों के सैंपल लिए गए थे। संक्रमितों के संपर्क में आए लोगों की ट्रेसिंग भी की जा रही है। उनके लगातार सैंपल लिए जा रहे हैं। कई रिपोट‌्‌र्स आनी बाकी है। बड़ी संख्या में अफसर-कर्मचारियों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद सैंपलिंग बढ़ा दी गई है।

सूत्रों के अनुसार सचिवालय में बड़ी संख्या में कोरोना केस आने से कर्मचारियों में डर का माहौल है। कई कर्मचारियों ने सीधे अपने लेवल पर बाहर जांच करवा ली है। उस का रिकाॅर्ड अभी सचिवालय के पास नहीं है। कई कर्मचारी छुट्टी पर चले गए हैं। सचिवालय में अब सुरक्षा अधिकारी कर्मचारियों से मास्क लगाने की अपील कर रहे हैं।

सचिवालय में कोविड कंट्रोल रूम बनाया
जयपुर सहित प्रदेशभर में कोरोना केस बढ़ने पर सचिवालय में ही स्टेट लेवल कोविड कंट्रोल रूम बनाया है। लाइब्रेरी बिल्डिंग की फर्स्ट फ्लोर पर स्टेट इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर में यह सेंटर बनाया गया है। प्रिंसिपल सेक्रेटरी आईटी एंड कम्युनिकेशन डिपार्टमेंट के डायरेक्शन में यह कंट्रोल रूम काम करेगा। इसकी रिपोर्ट मुख्यमंत्री और गृह विभाग को भेजी जाएगी। डीआईजी पुलिस सीआईडी सीबी अनिल कुमार टांक को जयपुर कंट्रोल रूम का कॉर्डिनेटर इंचार्ज बनाया गया है।

इस कंट्रोल रुम में IPS,RAS और RPS अफसरों को तैनात किया गया है। कंट्रोल रूम 24 घंटे 4 शिफ्ट में काम करेगा। यह सेंटर डिस्ट्रिक्ट वॉर रूम और दूसरे डिपार्टमेंट से कॉर्डिनेट करेगा। स्टेट लेवल वॉर रूम की डेली रिपोर्ट्स का अपडेट लेगा। हेल्पलाइन 181 की कोविड संबंधी शिकायतों का निपटारा करेगा। अस्पताल में ऑक्सीजन से लेकर कोविड बेड के बंदोबस्त करने के लिए कॉर्डिनेशन करेगा।
कोविड मैनेजमेंट पर भास्कर का सर्वे:तीसरी लहर झेल रहे राजस्थान की जनता करेगी राज्य सरकार का कोरोना टेस्ट

खबरें और भी हैं...