• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • 50% Off On Land Conversion To Start Medical College, Multi Specialty Hospital, Dispensary In Rajasthan

मेडीकल सेक्टर को बढ़ावा देने की तैयारी:राजस्थान में मेडीकल कॉलेज, मल्टी स्पेशिसलिटी हॉस्पिटल, डिस्पेंसरी शुरू करने के लिए लैण्ड कन्वर्जन पर 50 फीसदी की छूट

जयपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नगरीय विकास विभाग से जुड़े विशेषज्ञों की मानें तो मेडिकल हब बनाने से कई तरह के लाभ होंगे। - Dainik Bhaskar
नगरीय विकास विभाग से जुड़े विशेषज्ञों की मानें तो मेडिकल हब बनाने से कई तरह के लाभ होंगे।

पिछले दिनों कोविड 19 महामारी के दौर में जिस तरह मेडीकल सुविधाओं की जरूरत देखने को मिली थी उसे देखते हुए राज्य की अशोक गहलोत सरकार ने प्रदेश को मेडीकल हब बनाने का निर्णय किया है। इसके तहत सरकार ने राज्य में नये मेडीकल कॉलेज, मल्टी स्पेशिसलिटी हॉस्पिटल, डिस्पेंसरी खोलने को बढ़ावा देने के लिए लैण्ड कन्वर्जन (भू-उपयोग परिवर्तन) में छूट देने का निर्णय किया है। इसके तहत फैसेलिटी को शुरू करने वाले निजी कंपनियों को सरकार लैण्ड यूज कन्वर्जन में 50 प्रतिशत की छूट देगी।

निजी सेक्टर के बड़े हॉस्पिटल ग्रुप राज्य में आएं और नए अस्पताल, मेडिकल कॉलेज या मेडिकल से संबंधित अन्य गतिविधियां शुरू करें, इसके लिए नियमों में कई तरह की रियायत देने का निर्णय लिया है। नगरीय विकास विभाग से आज देर शाम एक आदेश जारी करके एग्रीकल्चर लैण्ड का कन्वर्जन शुल्क को आधा कर दिया है। इससे पहले राज्य सरकार ने अस्पताल, मेडिकल कॉलेज, नर्सिंग होम शुरू करने के लिए जो भी बिल्डिंग प्लान की फीस लगती थी उसे भी माफ किया था। सरकार ने बिल्डिंग प्लान 100% माफ करने का निर्णय किया था।

ये होगा लाभ
नगरीय विकास विभाग से जुड़े विशेषज्ञों की मानें तो मेडिकल हब बनाने से कई तरह के लाभ होंगे। नए मेडिकल कॉलेज, अस्पताल या कोई फार्मा कंपनी अपनी यूनिट लगाती है तो उससे प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा। इसके अलावा राज्य मेडिकल टूरिज्म के रूप में विकसित होगा। दूसरे राज्यों या विदेशों से लोग इलाज के लिए राजस्थान आ सकेंगे।

खबरें और भी हैं...