पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • 51 New Cases In The State Today, Not A Single Death; For The First Time, Active Cases In The State Are Less Than One Thousand; More Than 2.11 Lakh Patients Recovered In 55 Days

राजस्थान में कोरोना:प्रदेश में आज 51 नये केस, एक भी मौत नहीं; पहली बार राज्य में एक्टिव केस एक हजार से कम; 55 दिनों में 2.11 लाख से ज्यादा मरीज हुए रिकवर

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान में कोरोना दूसरी लहर में जिस तेजी से केस बढ़े वह अब तेजी से कम भी हो गए। पिछले सात दिनों से पूरे राज्य में कोरोना के हर रोज 100 से भी कम नये मरीज मिल रहे है। आज भी 51 नये केस मिले है और आज एक भी मरीज की मौत कोरोना से नहीं हुई है। खास बात ये है कि राज्य में पहली बार कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या एक हजार से कम हो गई। पहली लहर में भी एक्टिव मरीजों का ग्राफ एक हजार से नहीं गया। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग से जारी मिली रिपोर्ट के मुताबिक आज कोरोना के सबसे ज्यादा 17 केस जयपुर में मिले है। जयपुर को छोड़कर पूरे राज्य के किसी भी जिले में डबल डिजीट में कोराेना के केस नहीं मिले है। 33 में से 20 जिलों में आज कोरोना के एक भी केस नहीं है।

फरवरी में हुए थे सबसे कम एक्टिव केस

पिछले साल मार्च में कोरोना संक्रमित केस आने लगे थे। जब से कोरोना केसों की संख्या बढ़ती चली गई। पहली लहर का प्रभाव इस साल फरवरी में जब कम हुआ था तब एक्टिव केस ग्राफ 1195 तक पहुंचा था। इसके बाद से एक्टिव मामले बढ़ते चले गए और यह मई में 2 लाख के पार हो गए। आज पूरे राज्य में एक्टिव केसों की संख्या गिरकर 935 पर आ गई। बांसवाड़ा एकमात्र ऐसा जिला है जहां एक आज की तारीख में एक भी एक्टिव केस नहीं है।

55 दिन में 2.11 लाख मरीज हुए रिकवर

राजस्थान में एक्टिव केस का ग्राफ सर्वाधिक 2 लाख 12 हजार 753 पर पहुंचा था, जो इस साल 14 मई को आया था। 14 मई के बाद से एक्टिव केस कम होते चले गए। 55 दिन के अंदर राज्य में कुल 2 लाख 11 हजार 818 मरीज कोरोना से रिकवर होकर ठीक हुए है। आज सबसे ज्यादा एक्टिव मरीज 227 जयपुर में है, जो राज्य में मौजूद कुल एक्टिव केसों के 24 फीसदी है।

पूरे देश में 9वें नंबर पर है राजस्थान

देश में कम एक्टिव केस के मामले में राजस्थान का 9वां नंबर आता है। सबसे कम एक्टिव केस अंडमान निकोबार में 16 है। इसके बाद दूसरे नंबर पर दादर नागर हवेली, तीसरे पर चंडीगढ़, चौथे पर लद्दाख, पांचवे पर लक्ष्यदीप का नंबर आता है। इन सभी केन्द्र शासित प्रदेशों में एक्टिव केस की संख्या 255 से कम है। इसके अलावा मध्य प्रदेश में 447, झारखण्ड में 555 और दिल्ली में 833 ही एक्टिव केस बचे है। दिल्ली के बाद राजस्थान इस सूची में 9वें नंबर पर है। मौजूदा समय में सबसे ज्यादा एक्टिव केस महाराष्ट्र में 1 लाख 14 हजार 297 है।

खबरें और भी हैं...