पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • A One Year Later, FIR Was Lodged Against DCP Dr. Rahul Jain And Others In Khonagoriyan Police Station Jaipur

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पूर्व विधायक से मारपीट का एक साल पुराना मामला:अब डीसीपी डॉ. राहुल जैन सहित अन्य पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज की गई रिपोर्ट, जातिसूचक शब्द कहने के भी आरोप

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खोनागोरियान थाने में मारपीट के बाद पूर्व विधायक कैलाश वर्मा की हालत बिगड़ गई थी। 5 सितंबर 2019 का फोटो।
  • खोनागोरियान थाना इलाके में सितंबर, 2019 में हत्या को लेकर हुआ था विरोध प्रदर्शन
  • बगरु विधायक कैलाश वर्मा से मारपीट की गई थी, विधायक के भाई ने करवाई एफआईआर

शहर के खोनागोरियान इलाके में करीब एक साल पहले हुई मारपीट के मामले में बुधवार को एफआईआर दर्ज की गई। जिसमें पूर्व भाजपा विधायक कैलाश वर्मा से मारपीट के मामले में जिले के पूर्व डीसीपी डॉ. राहुल जैन समेत अन्य पुलिसकर्मियों के खिलाफ खोनागोरियान थाने में मामला दर्ज हुआ। इस संबंध में पूर्व विधायक कैलाश वर्मा के भाई भगवान सहाय वर्मा ने रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस ने एससी एसटी एक्ट और भारी मारपीट के तहत मुकदमा दर्ज किया है। जिसकी जांच एसीपी मालवीय नगर महेंद्र कुमार शर्मा को सौंपी गई है।

रिपोर्ट में विधायक के भाई ने यह आरोप लगाए

अपनी रिपोर्ट में भगवान सहाय ने आरोप लगाया कि 5 सितंबर 2019 को खोनागोरियान इलाके में एक अखबार के हॉकर की हत्या हो गई थी। जिसमें आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर वहां स्थानीय लोगों ने थाने का घेराव कर दिया था। तब बगरु के पूर्व विधायक कैलाश वर्मा भी मौके पर पहुंचे थे। आरोप है कि विरोध प्रदर्शन के दौरान डीसीपी डॉ. राहुल जैन और अन्य पुलिसकर्मियों ने कैलाश वर्मा के साथ जमकर मारपीट की। उन्हें जान से मारने की कोशिश की गई। जातिसूचक शब्द भी कहे गए। इसके बाद पूर्व विधायक कैलाश और अन्य के खिलाफ गंभीर आपराधिक धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया।

यह था मामला

खोनागोरियान इलाके में मदीना कॉलोनी में 5 सितंबर 2019 को अखबार बांटने वाले हॉकर मन्नूलाल वैष्णव की हत्या के बाद बवाल हो गया था। गुस्साई भीड़ ने खोनागोरियान थाने के बाहर मेन रोड पर जाम लगा दिया। इसके बाद पुलिस थाने पहुंचकर हंगामा किया। वहां जमकर नारेबाजी की और मामले में लापरवाही बरतने वाले थानाप्रभारी वीरेंद्र सिंह को सस्पेंड करने की मांग की। इस बीच भाजपा सरकार में संसदीय कार्य मंत्री रह चुके पूर्व विधायक कैलाश वर्मा और बस्सी से विधायक रहे लक्ष्मीनारायण मीणा भी खोनागोरियान थाने पहुंच गए।

विवाद बढ़ने पर पथराव, मारपीट और आगजनी

नेताओं और पुलिस अफसरों के बीच बात नहीं बनी। इस बीच विवाद बढ़ गया। पहले पुलिस और भीड़ में मौजूद लोगों के बीच धक्कामुक्की हुई। इस बीच लोगों ने थाने में ही टैंट लगाकर वहां धरना देने का प्रयास किया। जब पुलिस बल ने प्रदर्शन में मौजूद लोगों को लाठियां भांजकर खदेड़ा। तब गुस्साई ने पथराव शुरु कर दिया। इनमें पूर्व विधायक कैलाश वर्मा सहित कुछ अन्य लोगों व पुलिसकर्मियों के चोटें आई। कैलाश वर्मा की तबियत बिगड़ गई।

पूर्व विधायक कन्हैयालाल मीणा व अन्य समर्थक कैलाश वर्मा को गोद में उठाकर ले जाने लगे। तब वहां मौजूद डीसीपी हैडक्वार्टर कावेंद्र सागर ने कन्हैयालाल मीणा को वहीं रोक लिया। जबकि कैलाश वर्मा को एंबुलेंस से एसएमएस अस्पताल भेजा गया। इस दौरान गुस्साई भीड़ ने गोनेर तिराहे पर टायर फूंककर विरोध जताया। वहां पथराव हो गया था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर के बड़े बुजुर्गों की देखभाल व उनका मान-सम्मान करना, आपके भाग्य में वृद्धि करेगा। राजनीतिक संपर्क आपके लिए शुभ अवसर प्रदान करेंगे। आज का दिन विशेष तौर पर महिलाओं के लिए बहुत ही शुभ है। उनकी ...

और पढ़ें