पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अल्ट्राटेक सीमेंट फेक्ट्री में हादसा, 6 गंभीर घायल ब्यावर भर्ती:क्रेन से लोहे के सरिए उतारते वक्त हादसा, लोहे के सरियों से बना जाल श्रमिकों पर गिरा, 10 श्रमिक दबे, गैस कर्टर से काटकर श्रमिकों को निकाला

जैतारण (पाली)24 दिन पहले
हादसे के बाद मौके पर बचाव कार्य करती टीम।
  • क्रेन से लोहे के सरिए उतारते वक्त हुआ हादसा, एक-एककर सरिए मजदूरों के ऊपर गिरे; 7 की हालत गंभीर

जिले के आनंदपुर कालू थाना क्षेत्र में बुधवार करीब चार बजे एक निर्माणाधीन फैक्ट्री में क्रेन से लोहे के सरिए उतारे समय हादसा हो गए। क्रेन से सरिया लोहे के जाल से अटक गया। जिससे लोहे के सरियों से बना जाल नीचे काम कर रहे श्रमिकों पर गिर गया। जिससे 10 से ज्यादा श्रमिक लोहे के जाल के नीचे दब गए शेष ने भागकर जान बचाई। दबे श्रमिकों को बाहर निकालने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। लोहे के भारी जाल इतना भारी था कि क्रेन से भी नहीं उठा। गैस कर्टर से काट कर बाद में क्रेन की सहायता से उसे हटाकर श्रमिकों को निकाला गया। अचानक हादसा होने से मौके पर अफरा-तफरी मच गई। फेक्ट्री के इंजीनियर व अन्य स्टॉफ भी लोहे के जाल के नीचे दबे श्रमिकों को बचाने में जुटे नजर आए।

घायल को उपचार के लिए ले जाते हुए।
घायल को उपचार के लिए ले जाते हुए।

सूचना पर जैतारण एसडीएम डॉ भास्कर विश्नोई, सीओ जैतारण सुरेश कुमार भी मौके पर पहुंचे। श्रमिकों ने अल्ट्राट्रेक फेक्ट्री प्रबन्धन पर लापरवाही का आरोप लगाया। वहीं, 6 गंभीर घायलों को ब्यावर रैफर कर दिया गया है। जहां उनका उपचार चल रहा हैं। शेष घायलों की हालत सामान्य बताई जा रही हैं। जिन्हें प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई।

ऐसे हुआ हादसा
निर्माणाधीन फेक्ट्री में डोम ऐसे एक भवन में करीब 15-20 श्रमिक काम कर रहे थे। डोम के बाहर 20 एमएम के सरिए पड़े थे। जिन्हें क्रेन की सहायता से डोम में पहुंचाया जा रहा था। इस दौरान क्रेन से कुछ सरिए निकलकर डोम में गिर की दीवार पर लगी सरियों की जाली में अटक गए। जिससे भारी लोहे की सरियों का जाल नीचे काम कर रहे श्रमिकों पर जा गिरा। जिसके करीब 10-12 श्रमिक लोहे के सरियों के जाल के नीचे दब गए। गनीमत रही कि सरियों की जो जाली बनी में गेप था जिससे नीचे दबे श्रमिक इधर-उधर मूव कर पा रहे थे।

घायल को उपचार के लिए ले जाते हुए।
घायल को उपचार के लिए ले जाते हुए।

गैस कर्टर से काटनी पड़ी सरियों की दीवार
श्रमिक जिन सरियों की जाली के नीचे दबे हुए थे वह इतनी भारी थी कि क्रेन से भी नहीं उठाई जा रही थी। जिस पर गैस कर्टर से सरियों की जाली को काटा गया। बाद में उन्हें क्रेन की सहायता से हटाया गया। रेस्क्यू करीब दो घंटे तक चला। बाद में एम्बूलेंस से तुरंत घायलों को ब्यावर के अमृतकौर अस्पताल पहुंचाया गया। जहां उनका उपचार चल रहा हैं।

छह गंभीर घायल ब्यावर अस्पताल में भर्ती
आनंदपूर कालू थानाप्रभारी शारदा विश्नोई ने बताया कि हादसे में गंभीर घायल पाली जिले के बाबरा निवासी कालूराम (32) पुत्र छूटाराम, रामपूरा (जैतारण) निवासी सुखरामसिंह (27) पुत्र गिरधारीसिंह, जैतारण निवासी भगवानराम देवासी (31) पुत्र अमनराम देवासी, बलाड़ा (पाली) निवासी महेन्द्रराम (28) पुत्र गोविंदराम, टुकड़ा (जैतारण) निवासी चेतनप्रकाश (29) पुत्र जगदीशराम एवं झारखंड निवासी अर्जुनराम (40) पुत्र बिफनराम गंभीर घायल हो गए। जिन्हें उपचार के लिए ब्यावर के अमृतकौर अस्पताल भर्ती करवाया गया।

(फोटो - मनोहर सोलंकी जैतारण)

फेक्ट्री के बाहर लगी भीड़।
फेक्ट्री के बाहर लगी भीड़।
खबरें और भी हैं...