• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Campaign Suspended With Administration With Villages Campaign, Start After Corona Is Controlled: Barmer Latest News Update

प्रशासन गांवों के संग अभियान स्थगित:राजस्व मंत्री हरीश चौधरी बोले- कोरोना नियंत्रित होने के बाद शुरू होगा अभियान

बाड़मेर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राजस्व मंत्री हरीश चौधरी (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
राजस्व मंत्री हरीश चौधरी (फाइल फोटो)

जिले सहित प्रदेश भर में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। जिसके बाद सरकार द्वारा मई में शुरू होने वाला 'प्रशासन गांवों के संग' अभियान स्थगित कर दिया गया है। जिसमे एक ही छत के नीचे आमजन की समस्याओं को निपटाया जाता है। मामले में राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने कहा कि कोरोना नियंत्रित होने के बाद सरकार द्वारा प्रशासन गांवों के संग अभियान चलाया जाएगा।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने विधानसभा में घोषणा की थी 1 मई से प्रशासन गांवों के संग अभियम शुरू होगा। जिसमें एक ही छत के नीचे जनता के काम निपटाए जाएंगे। ग्रामीणों को सरकारी कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। अब कोविड संक्रमण फैंलने के साथ राजस्व विभाग ने इसे स्थगित करते हुए आगे खिसका दिया है। जिसे सरकार ने स्वीकार कर लिया है।

पंचायत स्तर पर लगते है शिविर

इस अभियान में जिले की हर पंचायत स्तर पर शिविर लगाकर ग्रामीणों की समस्याओं का निस्तारण किया जाता है। जिसमे अलग विभागों के अधिकारी कार्मिक मौजूद होते हैं। पंचायत स्तर पर लगने वाले इन शिविरों में राजस्व रिकॉर्ड में नाम संशोधन, सीमाज्ञान, जमीन पैमाइश सहित अनेक काम किए जाते हैं। जमीनी आपसी विवादों का निपटारा भी किया जाता है। आमजन से जुड़ी हर समस्या का निस्तारण एक छत के नीचे बैठकर किया जाता है।

यह विभाग रहेंगे मौजूद

इन शिविरों में राजस्व, ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, ऊर्जा, जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी, कृषि, जनजाति क्षेत्रीय विकास, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता, सैनिक कल्याण, महिला एवं बाल विकास, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति, आयोजना, पशुपालन, श्रम, आयुर्वेद, शिक्षा, सहकारिता एवं सार्वजनिक निर्माण विभाग जैसे आमजन से सीधे जुड़े विभागों के अधिकारी-कार्मिक मौजूद रहकर लोगों की समस्याओं का निस्तारण करेंगे।

राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने कहा कि मेरे विभाग द्वारा 1 मई से प्रशासन गांवों के संग अभियान शुरू होने वाला था, लेकिन कोविड की परिस्थितियों को देखते हुए स्थगित किया था। जिसे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने स्वीकार कर लिया है अब आगे कोविड-19 नियंत्रित के बाद शुरू किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...