छबड़ा में कर्फ्यू का तीसरा दिन:इंटरनेट-केबल टीवी अब भी बंद; दो दिन से नहीं पहुंचा दूध; आगजनी और तोड़फोड़ में 69 से अधिक दुकानों को हुआ नुकसान

बारां8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
छबड़ा कस्बे में जगह-जगह पुलिस तैनात है। मुख्य सड़कों को बंद कर रखा है। - Dainik Bhaskar
छबड़ा कस्बे में जगह-जगह पुलिस तैनात है। मुख्य सड़कों को बंद कर रखा है।

बारां जिले के छबड़ा कस्बे में लगातार तीसरे दिन मंगलवार सुबह भी कर्फ्यू लगा है। चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात है। सुबह कस्बे के कुछ इलाकों में पानी पहुंचने से लोगों को राहत जरूर मिली, लेकिन दूध दूसरे दिन भी नहीं पहुंचा है। इंटरनेट, केबल टीवी को भी प्रशासन ने बंद करा रखा है। कस्बे में एसटीएफ, आरएसी और पुलिस के 1000 से ज्यादा जवान तैनात हैं। सोमवार को हुए सांप्रदायिक बवाल के बाद अब तक शांति है। प्रशासन कोई रिस्क नहीं लेना चाहता है, इसलिए अभी कर्फ्यू में किसी तरह की ढील पर विचार नहीं किया गया है।

छबड़ा के बाजारों और गलियों में सन्नाटा पसरा है। लोग घरों में दुबके हैं। पुलिस ने मुख्य मार्गों को भी बंद कर दिया है। घटनाक्रम को लेकर व्यापारियों के पुलिस थाने पहुंचकर आगजनी, तोड़फोड़ और लूट के केस दर्ज करवाने का सिलसिला जारी है।

उपद्रव के दौरान 14 वाहनों में आग लगाई या तोड़फोड़ की
शुरुआती जांच में सामने आया है कि सांप्रदायिक बवाल के दौरान हुई आगजनी, तोड़फोड़ से 69 से अधिक दुकानों में नुकसान पहुंचा है। वहीं 1 बस सहित 14 से अधिक वाहनों को उप्रदवियों ने या तो जला दिया या उसमें तोड़फोड़ की है। उपद्रवियों की तरफ से की गई पत्थरबाजी में कई लोग और पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं।

उप्रदवियों ने घरों के आसपास मौजूद दुकानों को भी नहीं छोड़ा।
उप्रदवियों ने घरों के आसपास मौजूद दुकानों को भी नहीं छोड़ा।

उपद्रवियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू
वहीं, उपद्रव, लूटपाट और आगजनी को लेकर पुलिस ने सोमवार को आरोपियों की पहचान करना शुरू कर दिया है। अब आरोपियों की धरपकड़, लूटे गए माल की बरामदगी को लेकर छापेमारी की जा रही है। पुलिस ने बवाल के दौरान के फुटेज जुटाएं हैं। उनके आधार पर गिरफ्तारी शुरू कर दी है। पुलिस चाहती है कि कर्फ्यू अवधि में ही बवाल के मुख्य आरोपियों को पकड़ लिया जाए।

उप्रदवियों ने डेंटल क्लीनिक को भी आग के हवाले कर दिया।
उप्रदवियों ने डेंटल क्लीनिक को भी आग के हवाले कर दिया।

छोटे से विवाद से शुरू हुआ था बवाल
बारां के छबड़ा कस्बे में शनिवार देर शाम हुई चाकूबाजी को लेकर रविवार को दो पक्ष भिड़ गए। रविवार को विवाद बढ़ गया। बेकाबू भीड़ ने कस्बे में दुकानें, बसें, बाइक फूंक दीं। लूटपाट भी की। मेडिकल स्टोर तक को नहीं छोड़ा। पथराव में कई लोगों के साथ पुलिसकर्मियों को भी चोटें आई हैं। उपद्रवियों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करने के साथ आंसू गैस के गोले भी छोड़ने पड़े। 11-12 हवाई फायर भी किए।

सांप्रदायिक बवाल, आगजनी- बारां के छबड़ा से लाइव:पीड़ित दुकानदार बोले- आंखों के सामने जलती रही दुकानें, बुझाने के लिए पानी भी नहीं डाल पाए, सब कुछ बर्बाद हो गया

पूरे कस्बे में सन्नाटा पसरा है। कस्बे की आबादी करीब 50 हजार के आसपास है।
पूरे कस्बे में सन्नाटा पसरा है। कस्बे की आबादी करीब 50 हजार के आसपास है।
खबरें और भी हैं...