• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Congress Runs Sympathy Card In Vallabhnagar But There Is A Threat Of Rebellion, In Dhariyavad, BJP Cut The Ticket Of MLA Son, Resentment On Both Seats In BJP

उपचुनावों में कांग्रेस-बीजेपी को अब भीतरघात का खतरा:वल्लभनगर में कांग्रेस ने सहानुभूति कार्ड चला लेकिन बगावत का खतरा, धरियावद में बीजेपी ने विधायक पुत्र का टिकट काटा, बीजेपी में दोनों सीटों पर नाराजगी

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक तस्वीर - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक तस्वीर

वल्लभनगर और धरियावद सीटों पर होने वाले उपचुनावों में कांग्रेस और बीजेपी उम्मीदवारों की घोषणा के साथ ही अब बगावत और भीतरघात का खतरा मंडराने लगा है। कांग्रेस ने वल्लभनगर से सचिन पायलट समर्थक दिवंगत विधायक गजेंद्र सिंह शक्तावत की पत्नी प्रीति ​शक्तावत को टिकट देकर सहानुभूति फैक्टर को भुनाने का प्रयास किया है। बीजेपी ने धरियावद में सहानुभूति फैक्टर को नकार कर दिवंगत विधायक गौतम लाल मीणा के बेटे कन्हैयालाल मीणा का टिकट काट दिया। अब दोनों ही पार्टियों में बगावत शुरू हो गई है। बागियों को मनाने डेमेज कंट्रोल शुरू कर दिया है। बीजेपी के दोनों ही टिकट चौंकाने वाले माने जा रहे हैं। धरियावद सीट पर गौतमलाल मीणा कन्हैयालाल मीणा का नाम पैनल में था, लेकिन उन्हें टिकट नहीं दिया। कन्हैयालाल मीणा टिकट कटने से नाराज हैं और बागी होकर नामांकन कर दिया है। इस सीट पर नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया के समर्थक खेतसिंह मीणा को टिकट दिया है। इसका विरोध शुरू हो गया है।

बीजेपी को दोनों सीटों पर नाराजगी का सामना करना पड़ेगा
बीजेपी के सामने वल्लभनगर और धरियावद दोनों जगह भीतरघात के आसार बनने लगे हैंं। टिकट के दावेदारों की नाराजगी अब खुलकर सामने आने लगी है। वल्लभनगर में बीजेपी की टिकट के दावेदार कटारिया समर्थक उदयलाल डांगी नाराज बताए जा रहे हैं। वल्लभनगर में पूर्व विधायक रणधीर सिंह भीण्डर और उनकी पत्नी दोनों ने नामांकन दाखिल कर दिया है। भीण्डर बीजेपी के समीकरण बिगाड़ेंगे। धरियावद सीट पर टिकट से वंचित दावेदारों को मनाने की चुनौती है।

कटारिया ने वल्लभनगर में भीण्डर को टिकट नहीं लेने दिया, धरियावद में समर्थक को टिकट दिलवाया
दोनों सीटों पर टिकट में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया का फैसलों में असर देखा जा रहा है। वल्लभनगर में कटारिया के अपने समर्थक उदयलाल डांगी को टिकट नहीं दिला पाए लेकिन धरियावाद में अपने समर्थक को टिकट दिलवाने में कामयाब रहे। कटारिया ने कुछ दिन पहले कहा था कि भीण्डर को बीजेपी में नहीं आने दिया जाएगा।

वल्लभनगर में कांग्रेस को बगावत का खतरा
वल्लभनगर में कांग्रेस के सामने अब बगावत का खतरा है। प्रीति शक्तावत को टिकट देने के खिलाफ अब गजेंद्र सिंह शतवत के भाई देवेंद्र शक्तावत खुलकर सामने आ गए हैं। देवेंद्र शक्तावत बागी चुनाव लड़ने पर अड़े हुए हैं। देवेंद्र शक्तावत के बागी लड़ने पर कांग्रेस को नुकसाान हो सकता है। कांग्रेस डेमेज कंट्रोल में लगी है।

खबरें और भी हैं...