• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Rajasthan's CS Said It Is The Responsibility Of The Collector SP To Make The Examination Successful, Principal Secretary Home Said SOG Is On Alert Due To The Possibility Of Paper Leaks, Demand For Running 17 Special Trains

REET 2021, सबसे बड़ी परीक्षा:जयपुर में मुख्य सचिव ने कहा- परीक्षा सफल करवाना कलेक्टर-एसपी की जिम्मेदारी; पेपर लीक की आशंका से अलर्ट पर है SOG

जयपुरएक महीने पहले
26 सितंबर को प्रदेश की सबसे बड़ी प्रतियोगी परीक्षा राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा यानी रीट-2021 होने वाली है।

26 सितंबर को होने वाली राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा यानी रीट-2021 प्रदेश की सबसे बड़ी प्रतियोगी परीक्षा है। इसे सफल बनाने के लिए मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने प्रदेश के डिविजनल कमिश्नर और जिला कलेक्टरों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बैठक ली। मुख्य सचिव ने जिला कलेक्टर और एसपी को रीट परीक्षा की पूरी जिम्मेदारी दी है। मुख्य सचिव ने उन्हें वक्त पर सभी तैयारियां पुख्ता करने के निर्देश दिए।

मुख्य सचिव ने कलेक्टर और एसपी से कहा कि परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों के उनके जिलों में परीक्षा केन्द्रों पर आने और वापस जाने तक का पूरा ड्राफ्ट बनाकर तैयारी रखें। परीक्षार्थियों के आने-जाने, ठहरने और खाने की व्यवस्था करें। परिवहन विभाग, रोडवेज और रेलवे आपसी कॉर्डिनेशन से काम करते हुए मैनेजमेंट करें। परीक्षा केन्द्रों पर मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग और सैनेटाइजर के बंदोबस्त रखते हुए कोविड प्रोटोकॉल के मुताबिक व्यवहार हो।

मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने डिविजनल कमिश्नर और जिला कलेक्टरों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बैठक ली और पुख्ता सुरक्षा बंदोबस्त करने के निर्देश
मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने डिविजनल कमिश्नर और जिला कलेक्टरों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बैठक ली और पुख्ता सुरक्षा बंदोबस्त करने के निर्देश

प्रश्न पत्र और ओएमआर शीट की हो पुख्ता सुरक्षा
मुख्य सचिव ने पुख्ता सुरक्षा के साथ प्रश्न पत्रों को परीक्षा केन्द्रों तक पहुंचाने और परीक्षा खत्म होने के बाद ओएमआर शीट बोर्ड ऑफिस में सुरक्षित पहुंचाने के निर्देश दिए। उन्होंने परीक्षा में किसी भी तरह के गलत साधनों का इस्तेमाल रोकने, शांति से परीक्षा पूरी करवाने के लिए पुलिस को विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए। जयपुर, जोधपुर के पुलिस कमिश्नर और अजमेर, अलवर और सीकर के एसपी, जिला कलेक्टरों से निरंजन आर्य ने तैयारियों का फीडबैक लिया।

रजिस्टर्ड कैंडिडेट्स 25 लाख हैं। परीक्षा में 16 लाख कैंडिडेट्स फिजिकली बैठेंगे।
रजिस्टर्ड कैंडिडेट्स 25 लाख हैं। परीक्षा में 16 लाख कैंडिडेट्स फिजिकली बैठेंगे।

25 लाख रजिस्टर्ड कैंडिडेट्स, 16 लाख फिजिकली परीक्षा देंगे
रीट में 25 लाख अभ्यर्थी रजिस्टर्ड हैं, लेकिन फिजिकली 16 लाख के करीब स्टूडेंट्स के परीक्षा में बैठने की उम्मीद है। शिक्षा विभाग के एसीएस पवन कुमार गोयल ने परीक्षा की तैयारियों को लेकर बताया कि इसमें 25 लाख 71 हजार अभ्यर्थी रजिस्टर्ड हैं। इनमें से 9 लाख अभ्यर्थी दोनों लेवल की परीक्षा में शामिल होंगे। इस तरह फिजिकली देखा जाए, तो 16 लाख 22 हजार अभ्यर्थी परीक्षा में बैठेंगे। उन्होंने बताया कि इनमें से 2 लाख 70 हजार अभ्यर्थी दूसरे राज्यों के हैं। 7 लाख 30 हजार परीक्षार्थी अपने होम डिस्ट्रिक्ट में परीक्षा देंगे। प्रदेश के 6 लाख 20 हजार अभ्यर्थियों का इंटर डिस्ट्रिक्ट आना-जाना होगा।

कॉर्डिनेशन से करें ट्रांसपोर्ट के बंदोबस्त
शिक्षा विभाग के एसीएस ने बताया कि परिवहन विभाग, रोडवेज और रेलवे के कॉर्डिनेशन से स्टूडेंट्स के परीक्षा केन्द्रों तक आने-जाने की व्यवस्था की जा रही है। रेलवे से 9 रूट पर 17 विशेष रेलगाड़ियां चलाने की मांग की गई है। परीक्षा से जुड़ी दूसरी व्यवस्थाओं की भी पुख्ता तैयारी की जा रही है। उन्होंने माध्यमिक शिक्षा बोर्ड को परीक्षा केन्द्रों पर वक्त पर प्रश्न पत्र पहुंचाने, अधिकारियों की नियुक्ति, परीक्षा केन्द्रों पर सीसीटीवी लगाने और अभ्यर्थियों के एडमिट कार्ड में गलतियों को भी दुरुस्त करने के निर्देश बोर्ड के अधिकारियों को दिए।

पेपर लीक की आशंका से एसओजी हुई अलर्ट गृह विभाग के प्रमुख शासन सचिव अभयकै कुमार ने बताया कि पेपर लीक जैसी आशंका को रोकने के लिए स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप अलर्ट मोड पर है। उन्होंने जिला पुलिस अधीक्षकों को विशेष तौर पर सतर्क रहने के निर्देश देते हुए कहा कि इस तरह की कोई अफवाह हो, तो उसे तुरंत रोकें। एडीजी लॉ एंड ऑर्डर सौरभ श्रीवास्तव ने बताया कि रीट परीक्षा को शांतिपूर्ण करवाने के लिए हर स्तर पर पुख्ता बंदोबस्त किया गया है।