सरकार की सभी गाइडलाइनें अभी रैली में व्यस्त हैं:डूंगरपुर में 6 रोगियों पर कर्फ्यू, जयपुर में 9 ओमिक्रॉन केस पर कंटेनमेंट जोन तक नहीं

जयपुर/डूंगरपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिस परिवार में 5 ओमिक्रॉन पॉजिटिव मिले थे, उसी के 4 सदस्यों को कोरोना। - Dainik Bhaskar
जिस परिवार में 5 ओमिक्रॉन पॉजिटिव मिले थे, उसी के 4 सदस्यों को कोरोना।

प्रदेश में ओमिक्रॉन ब्लास्ट हो चुका है। जयपुर में 9 ओमिक्रॉन केस मिल चुके हैं, जबकि दो की रिपोर्ट आनी बाकी है। ओमिक्रॉन पॉजिटिव आए आदर्श नगर के परिवार के 3 और लोग भी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। एक सदस्य सोमवार को भी पॉजिटिव आया था। इन सभी को आरयूएचएस में भर्ती कराया गया है। साथ ही जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए सैंपल भेजे गए हैं।

हालांकि इसके बाद भी जयपुर 12 दिसंबर को हाेने वाली कांग्रेस की रैली के चलते ढिलाई बरती जा रही है। बीते 7 दिन में यहां 66 संक्रमित मिले हैं, इसके बावजूद कंटेनमेंट जोन तक नहीं बनाए जा रहे। चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीना बोले- ओमिक्रॉन घातक नहीं है, इसलिए कंटेनमेंट जोन की भी जरूरत नहीं है। वहीं दूसरी ओर, वहीं डूंगरपुर में 6 केस मिलते ही कर्फ्यू लगा दिया गया। यहां भी ओमिक्रॉन संदिग्ध दो मरीज हैं, जिनके सैंपल भेजे गए हैं।

...इधर, दोहरा रवैया

जोधपुर में कोरोना का हवाला देकर रैली काे मंजूरी नहीं दी
जयपुर में सरकार 1 लाख से अधिक भीड़ जुटाने की तैयारी में है। लेकिन जोधपुर में सहकारी समिति पीड़ित संघ को कोरोना का हवाला देते हुए जालोरी गेट से कलेक्ट्रेट तक रैली और धरने की मंजूरी नहीं दी गई। संघ अध्यक्ष पदमराज भंसाली ने क्रेडिट कॉ- आपरेटिव सोसायटियों के विरोध में रैली की मंजूरी मांगी थी।

डूंगरपुर कलेक्टर बोले- वो दर्दनाक मंजर नहीं देखना चाहते, 100% वैक्सीनेशन करेंगे नए केस : 2, एक्टिव केस : 5, ओमिक्रॉन संदिग्ध : 2

कोरोना की दूसरी लहर को वो खौफनाक मंजर कभी भूल नहीं सकता। इसलिए इस बार हम पहले से ही तैयारी करके बैठे हैं। संक्रमित मिलते ही उसे उसके घर में होम आइसोलेट कर रहे हैं। घर के आसपास कंटेनमेंट जोन बनाकर कर्फ्यू लगाया। 100% वैक्सीनेशन करेंगे। -सुरेश कुमार ओला, कलेक्टर

खाचरियावास बोले- ओमिक्रॉन पुराने वैरिएंट को मारने आया है
कांग्रेस की रैली के बचाव में खाद्य मंत्री मंत्री प्रताप खाचरियावास ने अजीबो-गरीब बयान दिया। कहा- ‘यह जो नया वैरिएंट ओमिक्रॉन आया है, वह पुराने खतरनाक वैरिएंट को मारने आया है।’

  • चिकित्सा मंत्री ने कहा- ओमिक्रॉन बहुत कमजारे है, कंटेनमेंट जोन की जरूरत नहीं है
  • नए केस : 12, एक्टिव केस : 105, आमिक्रॉन केस : 9

ओमिक्राॅन वैरिएंट बहुत कमजोर है। इससे संक्रमित हाेने के बाद भी लाेगाें काे काेई नुकसान नहीं है। इसलिए कंटेंटमेंट जाेन बनाने की जरूरत नहीं है। अभी काेई निर्णय भी नहीं लिया है।-परसादी लाल मीना, चिकित्सा मंत्री

कंटेंटमेंट जाेन बनाने का अधिकार कमिश्नरेट का है। प्रशासन का लेना-देना नहीं है। -अंतर सिंह नेहरा, कलेक्टर

प्रशासन और चिकित्सा विभाग से कंटेंटमेंट जाेन बनाने के लिए कोई आदेश नहीं आया है।-हैदरअली जैदी, एडि.सीपी