• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Cut Off Marks Likely To Remain High; Admission Process May Start In The First Week Of Next Month, No Decision Yet To Increase Seats

कॉलेज में एडमिशन के लिए होगी मारामारी:12वीं में 98% छात्र फर्स्ट डिवीजन से पास, कट ऑफ हाई रहने के आसार; अगस्त के पहले सप्ताह से शुरू हो सकती है एडमिशन प्रोसेस

अजमेर3 महीने पहलेलेखक: सुनिल कुमार जैन

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (RBSC) की ओर से जारी 12वीं के रिजल्ट के बाद अब कॉलेज में एडमिशन के लिए जद्दोजहद करना होगा। बेहतर रिजल्ट होने के कारण आवेदन करने वालों की संख्या भी ज्यादा हो जाएगी। इसलिए कट ऑफ परेसेन्टेज भी हाई रहने की उम्मीद है। ऐसे में स्नातक प्रथम वर्ष में एडमिशन के लिए मारा-मारी की स्थिति बननी तय है। हालांकि कॉलेजों में अभी प्रवेश प्रक्रिया शुरू नहीं हुई है। अगस्त के पहले सप्ताह में प्रवेश प्रक्रिया शुरू होने के आसार हैं। सीटों को बढ़ाए जाने को लेकर उच्च शिक्षा विभाग ने अभी कोई निर्णय नहीं किया है, लेकिन जरूरत पड़ने पर सीटें बढ़ाने की बात कही जा रही है।

उच्च शिक्षा विभाग के अधीन प्रदेश में 311 सरकारी कॉलेज है, जहां पर स्नातक प्रथम वर्ष में 1 लाख 91 हजार 271 सीट है। इसके अलावा प्रदेश में करीब एक हजार से ज्यादा प्राइवेट कॉलेज भी हैं। इनमें 2 लाख से ज्यादा सीटे हैं। 12वीं का रिजल्ट घोषित होने के बाद इन कॉलेज में प्रवेश प्रक्रिया शुरू होती है।

पास भी ज्यादा, प्रतिशत भी हाई
अन्य वर्षों के मुकाबले इस बार 12वीं में पास होने वालों की संख्या भी ज्यादा है और उनका मार्क्स प्रतिशत भी हाई है। परीक्षा में बैठने वालों में से करीब 98 प्रतिशत से ज्यादा विद्यार्थी फर्स्ट डिवीजन से पास हुए हैं। राजस्थान बोर्ड ने तय फार्मूला के तहत परिणाम जारी किया और सीबीएसई का परिणाम भी कुछ इस तरह का ही रहेगा। ऐसे में कॉलेज में एडमिशन आसान नहीं होगा। कट ऑफ मार्क्स प्रतिशत हाई रहेगा।

इसलिए हो रही प्रवेश प्रक्रिया में देरी
कोरोना के चलते राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड व केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने अपनी परीक्षाएं स्थगित कर दी और फॉर्मूले के तहत रिजल्ट जारी करने का फैसला किया। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने अपना रिजल्ट हाल ही में जारी किया है और केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड भी आगामी कुछ दिनों में जारी कर देगा। रिजल्ट के इंतजार में कॉलेज में प्रवेश प्रक्रिया शुरू नहीं हो पाई। उम्मीद है कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार 31 जुलाई तक रिजल्ट जारी हो जाएंगे और इसके दो-तीन बाद उच्च शिक्षा विभाग प्रवेश प्रक्रिया शुरू कर देगा।

इसलिए अभी नहीं बढ़ाईं सीटें
उच्च शिक्षा विभाग के अनुसार, पिछले वर्ष प्रदेश की 311 सरकारी कॉलेजों में सीटें 25 प्रतिशत बढ़ाने का निर्णय लिया और 1 लाख 91 हजार 271 सीटों के मुकाबले में 1 लाख 70 हजार सीटों पर ही प्रवेश हुआ। ऐसे में 20 हजार सीटें खाली रह गईं। इसलिए फिलहाल सीट बढ़ाने को लेकर कोई निर्णय नहीं लिया गया है। एडमिशन के लिए आने वाले आवेदनों को देखकर ही उच्च शिक्षा विभाग सीटें बढा़ने को लेकर निर्णय लेगा।

रिजल्ट का इंतजार
उच्च शिक्षा आयुक्तालय जयपुर के एकेडमिक जॉइंट डायरेक्टर सोमित्र नाथ झा ने बताया कि राजस्थान बोर्ड ने रिजल्ट अभी घोषित किया है। सीबीएसई का रिजल्ट अब आएगा। अन्य बोर्ड के रिजल्ट भी आने हैं। सभी बोर्ड के रिजल्ट आने का इंतजार है। इस माह के अंत तक आ जाएंगे तो अगले माह की शुरुआत में ही एडमिशन प्रोसेस शुरू कर देंगे। जहां तक सीटें बढ़ाने का सवाल है तो जरूरत व मांग के अनुसार सीटें बढ़ाने पर फैसला होगा।

RBSE रिजल्ट एनालिसिस:2 स्टूडेंट ही थर्ड डिवीजन से पास, 8 लाख स्टूडेंट फर्स्ट और 892 सेकेंड डिवीजन, 1.93 प्रतिशत ही फेल हुए, एक्सपर्ट बोले- यह फॉर्मूला करियर के लिए नुकसानदायक

RBSE की 12वीं का रिजल्ट जारी:साइंस का 99.52, आर्ट्स 99.19 और कॉमर्स का 99.73 प्रतिशत रहा रिजल्ट; राजस्थान के 9 लाख विद्यार्थियों का इंतजार खत्म

राजस्थान में टूटेगा आज 64 साल का रिकॉर्ड:RBSE के इतिहास में पहली बार शाम चार बजे 12वीं आर्ट्स, कॉमर्स और साइंस संकाय के रिजल्ट; 9 लाख विद्यार्थिंयों का इंतजार होगा खत्म

खबरें और भी हैं...