• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Gehlot Held A Press Conference Without A Mask, Just Two Hours Before Coming To Kovid Positive, The Cabinet Was Virtual A Day Before.

कोरोना प्रोटोकॉल दरकिनार कर प्रेस कॉन्फ्रेंस:कोविड पॉजिटिव आने से ठीक दो घंटे पहले गहलोत ने बिना मास्क प्रेस कॉन्फ्रेंस की,एक दिन पहले कैबिनेट वर्चुअल की थी

जयपुर5 महीने पहले
कोरोना पॉजिटिव आने से दो घंटे पहले प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान सीएम अशोक गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना पॉजिटिव होने से करीब घंटे भर पहले प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस की। सीएम गहलोत ने कोरोना के शुरुआती लक्षणों के बावजूद प्रेस कान्फ्रेंस की जबकि उनकी दो दिन से तबीयत खराब थी। आज जब प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में सीएम गहलोत पंजाब में पीएम की सुरक्षा चूक के मुद्दे पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करने आए तब भी उनकी तबीयत खराब थी। सीएम गहलोत और कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने बिना मास्क पंजाब मुद्दे पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष के संपर्क में कई कांग्रेस नेता, मीडियाकर्मी और सुरक्षाकर्मी भी आए थे। कांग्रेस मुख्यालय के जिस कमरे में प्रेस कॉन्फ्रेंस रखी गई वहां सोशल डिस्टेंसिंग भी नहीं थी। कोरोना के शुरुआती लक्षण होने के बावजूद सीएम ने फिजिकल प्रेस कॉन्फ्रेंस की। अब सीएम ने उनके संपर्क में आए सब लोगों से टेस्ट करवाने और आइसोलेशन में जाने की सलाह दी है।

कैबिनेट वर्चुअल, प्रेस कॉन्फ्रेंस आमने-सामने
कोरोना के बढ़ते केस का हवाला देते हुए सीएम अशोक गहलोत ने कल कैबिनेट और मंत्रिपरिषद की बैठक वर्चुअल की थी। आज जब मीडिया से मु​खातिब होने का मौका आया तो वर्चुअल की जगह सीएम और प्रदेशाध्यक्ष ने फिजिकल रूप से सामने आकर प्रंजाब मुद्दे पर बात रखी। अब इस पर सवाल उठाए जा रहे हैं। गहलोत ने आज भी सब लोगों को कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने की सलाह दी थी, जिसमें उन्होंने सबसे सोशल डिस्टेंसिंग रखने, मास्क लगाने की अपील की थी।

गहलोत ने कुछ देर पहले ही खतरे से चेताया था

सीएम अशोक गहलोत ने कोविड पॉजिटिव आने से कुछ देर पहले ही ट्वीट करके कोरेाना के खतरे और कोविड प्रोटाकॉल को लेक लोगों को चेताया था। गहलोत ने लिखा— आमजन में ऐसी धारणा है कि कोरोना का ओमिक्रोन वैरिएंट घातक नहीं है इसलिए लोग लापरवाही बरत रहे हैं। विशेषज्ञों की राय है कि ओमिक्रोन से ठीक होने के बाद पोस्ट कोविड समस्याएं पूर्व के वैरिएंट्स जितनी ही गंभीर हो सकती हैं। पोस्ट कोविड समस्या में अस्थमा, बार-बार सिर दर्द, फेफड़ों संबंधित रोग, किडनी की परेशानी एवं हृदय रोग तक हो सकते हैं। डॉक्टरों के मुताबिक अगस्त, 2021 में मुझे हुई आर्टरी ब्लॉकेज संबंधी परेशानी की एक वजह पोस्ट कोविड समस्या भी है। इसलिए ओमिक्रोन को भी गंभीरता से लेते हुए कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें और वैक्सीन की दोनों डोज लगवाएं।

खबरें और भी हैं...