• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Gehlot Said OBC People Should Take SC ST Along, General Ones Should Take Everyone Along, Only Then Tension In The Country Will End.

मोदी के सामने तंज के बाद गहलोत का नया मंत्र:ओबीसी वाले एससी-एसटी को साथ लेकर चलें, जनरल सबको साथ लेकर चलें, तभी तनाव खत्म होगा

जयपुर7 महीने पहले

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में वर्चुअल कार्यक्रम के दौरान देश में हिंसा और तनाव के माहौल का बयान देने के अगले ही दिन अब सीएम अशोक गहलोत ने भाईचारा बढ़ाने का नया फार्मूला दिया है। गहलोत ने कहा कि जो समाज आगे वाला होता है, उसकी ड्यूटी होती है कि वह दूसरे भाइयों को साथ ले। जिन्हें भी मदद की जरूरत है, उनकी मदद करें। हर समाज एक-दूसरे को साथ लेकर चले, तभी देश से हिंसा और तनाव का माहौल खत्म होगा। गहलोत जोधपुर के मेघवाल बालिका छात्रावास के वर्चुअल लोकार्पण समारोह में बोल रहे थे। गहलोत ने कहा- ओबीसी के लोगों की भावना हो कि वह एससी-एसटी के लोगों को साथ लेकर चले। जनरल कास्ट वालों की भावना होनी चाहिए कि वह एससी एसटी, ओबीसी वालों को भी साथ लेकर चले। यह भावना हम सब रखेंगे तब जाकर देश में भाईचारा कायम होगा। जो मैं बार-बार कहता हूं कि देश में तनाव और हिंसा का जो माहौल बन गया है, वह बहुत खतरनाक है। हम सबको सद्भाव और भाईचारे से रहना होगा। हमें अहिंसा के रास्ते पर चलना पड़ेगा। हमारी सरकार ने तो अहिंसा के लिए निदेशालय तक बनाया है।

पीएम के सामने कहा था, देश में हिंसा और तनाव का माहौल
प्रजापति ब्रह्मकुमारी विश्वविद्यालय के आजादी के अमृत महोत्सव के वर्चअल कार्यक्रम में सीएम अशोक गहलोत ने पीएम की मौजूदगी में कहा था कि आज देश में हिंसा और तनाव का माहौल है। हम चाहते हैं देश में सद्भाव, शांति और भाईचारा मजबूत हो, जिसकी आज सबसे ज्यादा जरूरत भी है। देश में आज तनाव का माहौल है, हिंसा का माहौल है। उससे छुटकारा मिले, यह हम सबकी इच्छा रहती है। सत्य अहिंसा के मार्ग पर चलकर ही देश समाज को आगे बढ़ा सकते हैं। जहां शांति होगी, वहीं विकास होगा। गहलोत के इस बयान की सियासी हलकों में खूब चर्चा हुई थी।

खबरें और भी हैं...