• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • In JLF, The Stage Will Be Decorated With Eminent Writers From All Over The World, Including British PM's Mother in law Sudha Murthy

क्लाइमेंट चेंज, आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस पर होगी बात:जेएलएफ में ब्रिटिश पीएम की सास सुधा मूर्ति सहित दुनियाभर के दिग्गज लेखकों से सजेगा मंच

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दुनियाभर में अपनी विशेष पहचान रखने वाला जयपुर लिटरेचर ​फेस्टिवल एक बार फिर जयपुर में लोगों के बीच आने वाला है। होटल क्लार्क्स आमेर में 19 से 23 जनवरी 2023 तक जेएलएफ आयोजित होगा। - Dainik Bhaskar
दुनियाभर में अपनी विशेष पहचान रखने वाला जयपुर लिटरेचर ​फेस्टिवल एक बार फिर जयपुर में लोगों के बीच आने वाला है। होटल क्लार्क्स आमेर में 19 से 23 जनवरी 2023 तक जेएलएफ आयोजित होगा।

दुनियाभर में अपनी विशेष पहचान रखने वाला जयपुर लिटरेचर ​फेस्टिवल एक बार फिर जयपुर में लोगों के बीच आने वाला है। होटल क्लार्क्स आमेर में 19 से 23 जनवरी 2023 तक जेएलएफ आयोजित होगा। इसमें दुनियाभर के नामचीन राइटर्स, स्कॉलर्स और सेलेब्रिटीज हिस्सा लेंगे, इनमें इंटरनेशनल अवॉर्ड विनिंग राइटर्स के नाम शामिल है। इसमें भारत की विभिन्न भाषाओं सहित दुनियाभर की विभिन्न लैंग्वेज में लिखने वाले राइटर्स अपनी बुक के साथ मौजूद रहेंगे। यह फेस्टिवल का 16वां संस्करण है, पहले यह जयपुर के डिग्गी पैलेस में होता था, अब यह होटल क्लार्क्स आमेर में लगातार दूसरे साल आयोजित हो रहा है। कोराना के बाद यह दूसरा अवसर होगा, जब बड़ी संख्या में दुनियाभर के बुक लवर्स इसमें शिरकत करेंगे। इस बार फेस्टिवल में ब्रिटिश पीएम ऋषि सुनक की सास और राइटर सुधा मूर्ति भी हिस्सा लेंगी।

इस बार फेस्टिवल में ब्रिटिश पीएम ऋषि सुनक की सास और राइटर सुधा मूर्ति भी हिस्सा लेंगी।
इस बार फेस्टिवल में ब्रिटिश पीएम ऋषि सुनक की सास और राइटर सुधा मूर्ति भी हिस्सा लेंगी।

टीचर और राइटर के रूप में पहचान रखने वाली सुधा इंफोसिस फाउंडेशन की अध्यक्ष भी हैं। इन्होंने इंफोसिस के सह-संस्थापक एनआर नारायण मूर्ति से शादी की थी। इन्हें 2006 में भारत सरकार द्वारा सामाजिक कार्यों के लिए मूर्ति को भारत के चौथे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्मश्री से सम्मानित किया गया था।

दो लिस्ट हो चुकी है जारी

फेस्टिवल में अब तक राइटर्स की दो लिस्ट शामिल हो चुकी है। पहली लिस्ट में प्रसिद्ध वक्ता और नोबेल प्राइज विजेता अब्दुल रज्जाक गुरनाह, 2022 में बुकर प्राइज से सम्मानित शेहान करुनातिलक, साहित्य अकादमी युवा पुरस्कार से सम्मानित तनुज सोलंकी, अशोक फेर्रे, अश्विन सांघी, अविनो किरे, बेर्नार्दिन एवारिस्तो, शिगोजी ओबिओमा, होवार्ड जैकबसन, नोवायलेट बुलावायो, जैरी पिंटो, उपन्यासकार और फिल्ममेकर रुथ ओजेकी और पत्रकार वौहिनी वारा के नाम शामिल थे। वहीं दूसरी लिस्ट में इंटरनेशनल बुकर प्राइज से सम्मानित लेखिका गीतांजलि श्री के साथ ही अमीश, अमित चौधरी, एंड्रू एल्टसुल, अनु सिंह चौधरी, अनुकृति उपाध्याय, चित्रा बनर्जी दिवाकरुनी, क्रिस्टोफर क्लोएब्ले और दीप्ति नवल जैसे नाम शामिल है। लिस्ट में एलैन कैनिंग, इरा टाक, हन्नाह रोसचाइल्ड, तृप्ति पांडे, जमील जान कोची, जेनिस परिअट और कैथरीन रुन्डेल जैसी शख्सियत होंगी।

फेस्टिवल के सह-निदेशक विलियम डेलरिम्पल ने कहा कि साहित्य की दुनिया के चमकते सितारों को गुलाबी नगरी की धरती पर उतारते हुए गर्व हो रहा है। इनमें नोबेल, बुकर, पुलित्जर, साहित्य अकादमी सहित विभिन्न पुरस्कारों से विजेताओं की एक शानदार श्रृंखला है।
फेस्टिवल के सह-निदेशक विलियम डेलरिम्पल ने कहा कि साहित्य की दुनिया के चमकते सितारों को गुलाबी नगरी की धरती पर उतारते हुए गर्व हो रहा है। इनमें नोबेल, बुकर, पुलित्जर, साहित्य अकादमी सहित विभिन्न पुरस्कारों से विजेताओं की एक शानदार श्रृंखला है।

अमरीका में भारत के पूर्व राजदूत रहे नवतेज सरना आएंगे

फेस्टिवल में इसके अलावा इतिहासकार और उपन्यासकार कैटी हिकमन, लेखिका किरण मनराल, पुरस्कृत इंटरनेशनल लेखिका मंजिरी प्रभु, लेखक मार्लोन जेम्स, लेखक मोइन मेरे, फेस्टिवल की को-डायरेक्टर और साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित लेखिका नमिता गोखले, अमरीका में भारत के भूतपूर्व राजदूत और लेखक नवतेज सरना, लेखिका सुधा मूर्ति और लेखिका व साहित्यिक अनुवादक टिफनी त्सो शामिल हैं।

दुनियाभर के अवॉर्ड विनिंग राइटर्स से मिलने का मौका
प्रसिद्ध लेखक, इतिहासकार और जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल के सह-निदेशक विलियम डेलरिम्पल ने कहा कि साहित्य की दुनिया के चमकते सितारों को गुलाबी नगरी की धरती पर उतारते हुए गर्व हो रहा है। इनमें नोबेल, बुकर, पुलित्जर, साहित्य अकादमी सहित विभिन्न पुरस्कारों से विजेताओं की एक शानदार श्रृंखला है।
टीम वर्क के डायरेक्टर और जेएलएफ के प्रोड्यूसर संजॉय रॉय ने कहा कि इस बार देशभर के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा होगी, इस बार कथा, कथेतर, व्यंजन, इतिहास, करंट अफयर्स, राजनीति के साथ आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस, तकनीक, संगीत, जलवायु संकट, हेल्था, क्रिप्टो करेंसी सहित अर्थव्यवस्था जैसे विषयों पर सत्र आयोजित होंगे।