• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Rajasthan Coronavirus Cases Update; Jaipur Jodhpur News | Rajasthan Hospital Oxygen Supported Beds; Rajasthan Top 6 Districts Where Worst Recovery Rate

राजस्थान में कोरोना:देश के 15 राज्यों में राजस्थान का रिकवरी रेट सबसे नीचे, एक्टिव केस बढ़ने से बड़े अस्पतालों में बेड फुल

जयपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान में अब तक कोरोना के 5 लाख 30 हजार 875 केस मिल चुके हैं। इस लिहाज से राजस्थान देश के सबसे ज्यादा संक्रमित राज्यों में 10वें नंबर पर है, पर रिकवरी रेट के मामले में राजस्थान की स्थिति खराब है। यहां रिकवरी रेट 71% है। महाराष्ट्र, दिल्ली, केरल, कर्नाटक जैसे राज्यों में रोज आने वाले केसों की संख्या राजस्थान से भी ज्यादा है, लेकिन वहां रिकवरी रेट 78% से ज्यादा है। इस मामले में राजस्थान देश के सबसे संक्रमित राज्यों में 15वें नंबर पर है।

पिछले 24 घंटे में राज्य में 16 हजार 438 पॉजिटिव केस मिले हैं। 6 हजार 416 मरीज रिकवर हुए हैं। एक सप्ताह में प्रदेश में 33 हजार 811 मरीज रिकवर हुए, जबकि 70 हजार एक्टिव केस सामने आए। इनकी वजह से बड़े शहरों के अस्पतालों में बेड्स फुल हो गए हैं।

भारत में टॉप 10 राज्यों में रिकवरी रेट की स्थिति

राज्यएक्टिव केसरिकवरी रेट
महाराष्ट्र6,74,77082 %
केरल2,32,80883 %
कर्नाटक2,81,04278 %
उत्तर प्रदेश3,04,19971 %
तमिलनाडु1,07,14589%
दिल्ली92,35889 %
आंध्र प्रदेश95,13190 %
पश्चिम बंगाल94,94986 %
छत्तीसगढ़1,21,35280 %
राजस्थान1,46,64071 %

6 जिलों में रिकवरी रेट 80 फीसदी से ऊपर
राजस्थान के 33 जिलों में से केवल 6 ही ऐसे हैं, जहां 80% या उससे ज्यादा का रिकवरी रेट है। इनमें नागौर, डूंगरपुर, भरतपुर, गंगानगर, जालौर और झुंझुनूं शामिल हैं। भरतपुर और नागौर ऐसे जिले हैं, जिनमें रिकवरी रेट 90% से ऊपर है। मरीज बढ़ने का सबसे ज्यादा दबाव जयपुर, जोधपुर, उदयपुर और कोटा के अस्पतालों पर आ रहा है। यहां जिले के अलावा आसपास के इलाकों के मरीज भी आ रहे हैं। बड़े निजी और सरकारी अस्पतालों में बेड्स करीब-करीब फुल हैं।

जयपुर के RUHS, जयपुरिया अस्पताल में आईसीयू, वेंटिलेटर और ऑक्सीजन बेड्स के लिए मारामारी मची हुई है। खुद परिवहन मंत्री भी जयपुरिया का दौरा करने गए तो वह भी स्थिति देखकर दंग रह गए।

राजस्थान के टॉप 6 जिले जहां सबसे खराब रिकवरी रेट

जिलाएक्टिव केसरिकवरी रेट
सवाई माधोपुर3,24242%
प्रतापगढ़1,51153%
सिरोही3,62255%
हनुमानगढ़2,58657%
बारां2,33958%
दौसा2,05859%
जयपुर के RUHS अस्पताल में बेड्स उपलब्ध नहीं होने की वजह से मरीजों का इलाज गेट के सामने बने पोर्च में भी किया जा रहा है।
जयपुर के RUHS अस्पताल में बेड्स उपलब्ध नहीं होने की वजह से मरीजों का इलाज गेट के सामने बने पोर्च में भी किया जा रहा है।

सरकारी साइट पर बेड्स मौजूद, पर हकीकत में नहीं
जयपुर की बात करें तो सरकार ने यहां कोविड मरीजों के लिए संचालित 86 अस्पतालों की लाइव मॉनिटरिंग के लिए एक वेबसाइट covidinfo.rajasthan.gov.in लॉन्च की गई है। इस साइट पर जयपुरिया अस्पताल में सुबह तक 175 में से 38 बेड्स ग्रीन सिग्नल के दर्शा रहे हैं, लेकिन वास्तविकता में जब पता किया तो वहां एक भी बेड खाली नहीं हैं। यही स्थिति निजी अस्पतालों की भी है, जहां कुछ बेड्स खाली तो हैं, लेकिन वहां पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं है।

खबरें और भी हैं...