पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • In The Chaturmas Program Of Acharya Mahashraman, He Was About To Execute A Big Incident, Was Arrested With Weapons

लिफ्ट मांगकर लूटती थीं:भीलवाड़ा में कार खराब होने का बहाना कर इंदौर की महिलाएं लोगों को फंसातीं, पीछे से पुरुष साथी आकर राहगीर को लूट लेते, छह गिरफ्तार

भीलवाड़ा7 दिन पहले
पुलिस गिरफ्त में महिलाएं। जो राहगीरों को इशारा कर रोकती हैं।

भीलवाड़ा में लिफ्ट लेने के बहाने लोगों को लूटने वाली इंदौर की तीन महिलाओं और उनके गिरोह के अन्य सािथयों सहित कुल छह लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। मप्र के इंदौर निवासी यह महिलाएं कार खराब होने का बहाना बनाकर लोगों से मदद मांगती, जैसी कोई मदद के लिए पुरुष साथी आते और राहगीर को लूट लेते थे।

शहर में इन दिनों आचार्य महाश्रमण के चातुर्मास कार्यक्रम चल रहा है। कोतवाली पुलिस ने बताया कि थाने का जाब्ता तेरापंथ नगर में गश्त कर कर रहा था। इस दौरान जैन आचार्य मुनि के दर्शन करने आए बाइक सवार व्यक्ति व महिला ने पुलिस को सूचना दी कि समेलिया हरणी महादेव रोड पर अंधेरे में एक क्रूजर कार खड़ी है। जिसमें दो-तीन लोग बैठे हैं। तीन महिलाएं बाहर खड़ी हैं। एक औरत ने उन्हें हाथ का इशारा देकर रोकने की कोशिश की। जब बाइक नहीं रोकी तो कार में बैठे व्यक्तियों द्वारा अचानक उतर कर दौड़ते हुए रोड़ पर रस्सी फेंकी। वह लोग मुश्किल से बचकर आए हैं।

उन्होंने बताया कि गिरोह के बदमाश औरतों को रोड पर आगे कर कार्यक्रम में आने-जाने वाले राहगीरों के साथ लूट के लिए बैठे हैं। इस पर पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए 3 महिलाओं समेत 6 लोगों को गिरफ्तार किया। इनके पास से चाकू जैसे धारदार हथियार व कार बरामद की गई। पुलिस अब इस गिरोह के अन्य सदस्यों और वारदातों के बारे में जानकारी जुटा रही है।

पुलिस गिरफ्त में गैंग के अन्य सदस्य।
पुलिस गिरफ्त में गैंग के अन्य सदस्य।

महिलाओं को आगे कर देते हैं वारदात को अंजाम

पुलिस की पूछताछ में सामने आया है कि गिरोह के सदस्य किसी भी मार्ग पर महिलाओं को सड़क पर खड़ा कर देते हैं। जिसके बाद अपने वाहन को लेकर थोड़ा दूर चले जाते हैं। वहां से गुजरने वाले राहगीरों को महिलाएं लिफ्ट देने के लिए हाथ आगे करती हैं। जैसे ही कोई राहगीर उन महिलाओं के पास रुकता है, गिरोह के पुरुष उस पर आकर हमला कर देते हैं। पुलिस ने बताया कि इस गिरोह के पास रस्सी, टॉर्च, लाठी, चाकू व गुप्ति जैसे हथियार मौजूद हैं। इस गिरोह द्वारा भीड़भाड़ वाले क्षेत्र, मेले या बड़े धार्मिक आयोजनों में की महिलाओं की मदद से चैन स्नेचिंग की वारदातों को भी अंजाम दिया जाता है।

तीनों युवक भी पकड़े गए।
तीनों युवक भी पकड़े गए।

गिरोह के यह सदस्य आए पकड़ में

कोतवाली पुलिस ने इस गिरोह के रोहित पुत्र राजू सोनारकर निवासी इंदौर, अतीश सोनारकर पुत्र अशोक, शंकर प्रधान पुत्र मोहन प्रधान, लता पत्नी किशन, नीतू उर्फ निशा पुत्री अशोक सोनारकर व शशिकला उर्फ शशन पुत्री अशोक सोनारकर भीमनगर इंदौर को गिरफ्तार किया है।

खबरें और भी हैं...