राजस्थान में आयकर छापे:ज्वैलर ग्रुप के 56 ठिकानों पर छापे; जयपुर, दिल्ली, मुंबई और टोंक में 400 से ज्यादा आयकर कर्मचारी शामिल

जयपुर2 महीने पहले

जयपुर के एक नामी ज्वैलर ग्रुप से जुड़ी कंपनियों के 56 ठिकानों पर एक साथ आयकर पड़े हैं। जयपुर में 46 ठिकानों पर कार्रवाई चल रही है। शेष मुंबई, दिल्ली, टोंक, देवली के ठिकानों पर भी जांच जारी है। यह ग्रुप नामी कारोबारी निर्मल बरड़िया का है। इससे प्रिशियस स्टोन ब्रोकर राधामोहन तोतला, कारोबारी प्रमाद दरड़ा भी जुड़े हैं। इसमें 400 से ज्यादा आयकर कर्मचारियों की टीम लगी है।100 से ज्यादा पुलिसकर्मी लगाए गए हैं। जयपुर में गौरव टावर, बरडिया कॉलोनी, सीतापुरा में स्पेशल इकोनॉमिक जोन, रामगढ़ रोड, बेलाकासा होटल सहित कई ठिकानों पर जांच की जा रही है। यह कारोबारी समूह ज्वैलरी फाइनेंस, रियल एस्टेट और होटल इंडस्ट्री से जुड़ा हुआ है।

बेनामी लेन-देन के रजिस्टर जब्त
आयकर सूत्रों के अनुसार, ज्वैलर ग्रुप की 10 से ज्यादा कंपनियों के दस्तावेजों के लेन-देन की जांच चल रही है। बड़ी संख्या में खरीद-बिक्री के दस्तावेज जब्त किए गए हैं। कई बेनामी लेन-देन के रजिस्टर और रफ बुक भी कब्जे में लिए गए हैं। इनका ब्योरा आयकर विभाग को दिए गए दस्तावेजों में नहीं है। बड़ी मात्रा में ज्वैलरी और प्रिशियस स्टोन का स्टॉक भी मिला है। वैरिफिकेशन किए जा रहे हैं।

कई लॉकरों की जानकारी सामने आई
अब तक की कार्रवाई में कई लॉकर होने की जानकारी भी सामने आई है। दस्तावेजों के आधार पर अब कई और कंपनियां भी जांच के दायरे में आएंगी। महीने भर के भीतर आयकर की यह दूसरी बड़ी कार्रवाई है। इससे पहले गंगानगर के कांग्रेस नेता और रियल एस्टेट कारोबारी अशोक चांडक के ठिकानों पर सप्ताह भर तक आयकर कार्रवाई चली थी। इसमें सैकड़ों करोड़ की आयकर चोरी और अघोषित आय का पता लगा था।

आयकर छापेमारी में 50 करोड़ की ब्लैक मनी:कांग्रेस नेता- बिल्डर ग्रुप के 33 ठिकानों से 2.31 करोड़ कैश और 2.48 करोड़ की ज्वैलरी जब्त

खबरें और भी हैं...