वैक्सीन लगाओ,कोरोना भगाओ स्लोगन की पतंगों से मैसेज:पक्षियों को बचाने का संदेश, शाम को आतिशबाजी  के साथ विशिंग लैंप से जगमगाया आसामान

जयपुर4 महीने पहले
वैक्सीन लगाओ,कोरोना भगाओ स्लोगन की पतंगें।

राजधानी जयपुर समेत प्रदेशभर में मकर संक्रांति पर जमकर पतंगबाजी हुई। इस बार बार कोविड महामारी के खिलाफ पतंगों के जरिए बड़ा मैसेज लोगों तक पहुंचाया गया। चिकित्सकों, समाजसेवियों, जागरूक लोगों ने अपने-अपने लेवल पर ऐसी पतंगें उड़ाईं जो कोविड वैक्सीन लगवाने और कोरोना को भगाने का मैसेज देती नजर आईं। साथ ही बेजुबान पक्षियों,जानवरों और आम लोगों को चाइनीज मांझे से होने वाले नुकसान को देखते हुए उसके खिलाफ भी मैसेज पतंगों पर लिखकर लोगों तक पहुंचाया। डॉ दुर्गा शंकर सैनी ने पतंग को लालटेन के रूप में उड़ाकर लोगों से अपील की।वैक्सीन लगवाओ,कोरोना भगाओ के नारे वाली पतंगों का बहुत अच्छा रेस्पॉन्स लोगों ने दिया। कोरोना मुक्ति संकल्प,वैक्सीन की जीवन है का संदेश देती पतंगें बच्चों ने उड़ाईं। डॉ सैनी के साथ मनीष बेगरी, उनकी 15 साल की बेटी निष्ठा तंवर, बेटे भव्य तंवर, सौरव तंवर, गौरव तंवर ने साल 2022 को जीवन रक्षक वर्ष के रूप में मनाए जाने की अपील की। साथ ही चाइनीज मांझे का बहिष्कार करने के स्लोगन भी लोगों तक पहुंचाए गए।

छतों पर चढ़े लोग और पतंगों से भरा आसमान।
छतों पर चढ़े लोग और पतंगों से भरा आसमान।

बच्चे-बड़े सभी ने पतंगबाजी कर सेलिब्रेट किया फेस्टिवल
मकर संक्रांति पर जयपुर का आसमान दिनभर रंग बिरंगी पतंगों से अटा रहा। कोविड प्रोटोकॉल और सोशल डिस्टेंसिंग के साथ लोगों ने पतंगें उड़ाईं। वो काटा, वो मारा का शोर दिन भर छतों पर गूंजता रहा। लोगों ने एक दूसरे को मकर संक्रांति की शुभकामनाएं दीं। उड़ी उड़ी रे पतंग मेरी उड़ी रे, आई वो, वो काटा......जैसे गानों की धुन पर पतंगें उड़ाई गईं। इस बार खास यह रहा कि रंग बिरंगी पतंगों पर पक्षी बचाओं, बेटी बचाओं, कोरोना से बचाव, यातायात नियमों के स्लोगन लिखी पतंगों से आसमान अटा रहा।

खबरें और भी हैं...