पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota Sutdents Lockdown Update, Ashok Gehlot Rajasthan Government Arrangements For Uttar Pradesh 7500 Coaching Students

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

राजस्थान:कोटा में फंसे 7 हजार 500 छात्रों को 252 बसों से यूपी लाने पर बिहार को ऐतराज; एक छात्र को कोरोना संक्रमण हुआ, हॉस्टल के सभी बच्चे आइसोलेट

कोटाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ये फोटो आगरा की है। इस बस में कोटा से आने वाले छात्रों की पहले जांच की गई, फिर मास्क पहनकर ही वह बस में सवार हो पाए।
  • 102 बसें झांसी और 150 बसें आगरा से रवाना हुईं, इन्हें कोटा में 6 अलग-अलग जगहों पर खड़ा किया गया
  • अधिकांश छात्र देर रात उत्तर प्रदेश लौटने के लिए रवाना हुए, आगरा-झांसी से उन्हें घर भेजने के इंतजाम किए जाएंगे
  • बिहार के मुख्य सचिव ने कहा- जो भी बच्चे राजस्थान से बिहार आएंगे, उन्हें अभिभावकों के साथ 14 दिनों के लिए क्वॉरैंटाइन किया जाएगा

शहर में फंसे कोचिंग छात्रों को लेने के लिए शुक्रवार को उत्तर प्रदेश सरकार ने 252 बसें कोटा भेजी। यहां यूपी के 7 हजार 500 छात्र हैं, जिन्हें बसों से उनके घरों तक पहुंचाया जाएगा। राजस्थान और यूपी सरकार ने गुरुवार को यह फैसला लिया था। छात्रों के लिए शुक्रवार को 102 बसें झांसी और 150 बसें आगरा से रवाना हुईं। रात में ही छात्र बसों से रवाना हो गए। हालांकि, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस पर नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि यह नाइंसाफी है। छात्रों को लेने के लिए बसें भेजने से लॉकडाउन का महत्व ही खत्म हो जाएगा। इस बीच, कोटा में रहकर तैयारी करने वाला एक छात्र भरतपुर में संक्रमित मिला है। वह जिस हॉस्टल में रहता था, वहां के सभी छात्रों को आइसोलेट किया गया है।

गृह मंत्रालय को कोटा के डीएम को फटकार लगाना चाहिए- मुख्य सचिव

मुख्य सचिव दीपक कुमार ने इस संबंध में केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला को पत्र लिखकर कहा है कि गृह मंत्रालय को राजस्थान सरकार को लॉकडाउन का सख्ती से पालन करने का आदेश देना चाहिए। साथ ही, कोटा के डीएम को गैरजिम्मेदाराना हरकत के लिए फटकार लगाई जानी चाहिए। कोटा के डीएम ने बड़ी तादाद में निजी गाड़ियों के लिए पास जारी कर दिए हैं। वह भी तब, जब कोटा में 40 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। मुख्य सचिव ने कहा कि जो भी बच्चे राजस्थान से बिहार आएंगे, उन्हें उनके अभिभावकों के साथ 14 दिनों के लिए क्वॉरैंटाइन किया जाएगा।

कोटा में संक्रमण के 6 नए मामले सामने आए

इस बीच, कोटा में शुक्रवार को संक्रमण के छह नए मामले सामने आए। कोटा में रहकर तैयारी करने वाला एक छात्र भरतपुर में संक्रमित मिला है। यह छात्र कोटा की एक कोचिंग में मेडिकल की तैयारी करता है। 13 अप्रैल को कोटा से भरतपुर पहुंचा था। छात्र की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद वह कोटा में जिस हॉस्टल में रहता था, उसके सभी बच्चों को आइसोलेट कर दिया गया है। साथ ही, छात्र के कमरे को सील कर दिया गया है। कोटा के मेडिकल कॉलेज के प्रिसिंपल डॉ. विजय सरदाना ने बताया कि छात्र की कॉन्टेक्ट हिस्ट्री का पता लगाया जा रहा है। कोटा में अब तक 92 संक्रमित मिल चुके हैं।

सबसे पहले छात्रों को झांसी-आगरा ले जाया जाएगा

इससे पहले,छात्रों को लेने गईं बसें कोटा में उन 6 जगहों पर खड़ी की गईं, जहां कई कोचिंग सेंटर हैं। यहां पहुंचने के लिए कोचिंग और प्रशासन ने छात्रों की मदद की। एक बस में करीब 25 से 30 बच्चों को ले जाया गया। इन्हें सबसे पहले झांसी और आगरा ले जाया जाएगा। इसके बाद सरकार इन्हें आगे ले जाने का प्रबंध करेगी। 

मध्य प्रदेश से भी छात्रों को लाने की योजना
कोटा में देशभर से छात्र आईआईटी की तैयारी करने आते हैं। यहां अभी 40 हजार छात्र हॉस्टल और पीजी अकोमोडेशन में रह रहे हैं। कोटा के अलावा यूपी सरकार मध्यप्रदेश में फंसे छात्रों को भी घर वापस लाने के लिए बातचीत कर रही है। बिहार के बच्चों के लिए भी वहां की सरकार से बात की जाएगी।

कोटा में यूपी की बसें उन 6 स्पॉट पर खड़ी की गई, जहां कोचिंग की संख्या ज्यादा है।
कोटा में यूपी की बसें उन 6 स्पॉट पर खड़ी की गई, जहां कोचिंग की संख्या ज्यादा है।

मास्क, सैनिटाइजर, पानी और खाने की भी व्यवस्था की गई
बच्चों को भेजने की पूरी व्यवस्था एडीएम प्रशासन एनके गुप्ता कर रहे हैं। उनके साथ पुलिस भी बच्चों को बसों तक लाने और शांति बनाए रखने में मदद करेगी। बच्चों के बसों में बैठने से पहले मास्क, सैनिटाइजर, पानी और खाना भी दिया जाएगा।

फोटो/वीडियो- पंकज पारीक

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय अनुसार अपने प्रयासों को अंजाम देते रहें। उचित परिणाम हासिल होंगे। युवा वर्ग अपने लक्ष्य के प्रति ध्यान केंद्रित रखें। समय अनुकूल है इसका भरपूर सदुपयोग करें। कुछ समय अध्यात्म में व्यतीत कर...

    और पढ़ें